मां सुषमा स्वराज की राह पर बांसुरी स्वराज, संस्कृत में ली सांसद पद की शपथ

35
amit-shah

Parliament Session 2024, नई दिल्लीः नई सरकार के गठन के बाद आज लोकसभा का 18वां सत्र शुरू हुआ। प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कैबिनेट मंत्रियों और विपक्षी सदस्यों को शपथ दिलाई। इस दौरान दिवंगत विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज अपनी मां के नक्शे कदमों पर चलते हुए संस्कृत भाषा में शपथ ली।

सुषमा स्वराज ने संस्कृत ली थी शपथ

दरअसल इससे पहले 2014 में जब सुषमा स्वराज विदिशा लोकसभा सीट से सांसद चुनी गई थीं, तब भी उन्होंने संस्कृत में सांसद के तौर पर शपथ ली थी। बांसुरी स्वराज ने अपने पहले लोकसभा चुनाव में नई दिल्ली सीट से जीत दर्ज की थी। उन्होंने आप के सोमनाथ भारती को 78,370 वोटों से हराया था। इसके अलावा हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट से भाजपा सांसद कंगना रनौत ने सोमवार को 18वीं लोकसभा के सदस्य के तौर पर शपथ ली। उन्होंने हिंदी में शपथ ली।

अभिनेत्री और भाजपा नेता के तौर पर मशहूर कंगना रनौत ने मंडी लोकसभा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार विक्रमादित्य सिंह को 74,755 वोटों से हराया। वहीं केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने लोकसभा सदस्य के तौर पर शपथ ली। अनुप्रिया पटेल उत्तर प्रदेश की मिर्जापुर लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करती हैं।

ये भी पढ़ेंः-कांग्रेस नेता सुरजेवाला बोले- भाजपा की मनमर्जी से दांव पर लाखों युवाओं का भविष्य

सबसे पहले पीएम मोदी ने ली शपथ

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले लोकसभा सदस्य के तौर पर शपथ ली। सोमवार को जब लोकसभा की कार्यवाही शुरू हुई तो प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब ने उन्हें 18वीं लोकसभा के सदस्य के तौर पर शपथ दिलाई। इसके बाद केंद्रीय मंत्रियों ने शपथ ली, जिनमें सबसे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शपथ ली। राजनाथ सिंह के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, नितिन जयराम गडकरी, शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल, एचडी कुमारस्वामी, पीयूष गोयल ने संसद सदस्य के रूप में शपथ ली।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)