दर्दनाकः दलित परिवार के चार सदस्यों की धारदार हथियार से हत्या, छानबीन में जुटी पुलिस

लखनऊः उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जनपद में एक बार फिर दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है। यहां फाफामऊ इलाके में गुरुवार को दलित परिवार के चार सदस्यों की हत्या कर दी गई है। हत्या की इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। चारों की हत्या धारदार हथियार से की गई है। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और घटना की छानबीन शुरू कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार फूलचंद (50) उनकी पत्नी मीनू (47) बेटी सपना (17) और बेटे शिव (10) की कमरे में खून से लथपथ शव बरामद किया गया। शवों से दुर्गंध भी आ रही थी। पड़ासियों के मुताबिक बुधवार को परिवार का कोई भी सदस्य घर के बाहर नहीं दिखायी दिया। ऐसे में यह अनुमान लगाया जा रहा है कि इनकी हत्या मंगलवार रात में हुई होगी। साथ ही सपना और मीनू के कपड़े भी अस्त-व्यस्त मिले हैं। सपना का शव चारपाई के नीचे पड़ा था। वहीं घर का दरवाजा खुला हुआ मिला और सभी सामान भी जगह पर ही मिले। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि लूट और चोरी को लेकर हत्याएं नहीं हुई हैं। वहीं यह भी सामने आ रहा है कि भूमि विवाद को लेकर कमलेश सिंह, राकेश सिंह, कान्हा ठाकुर से इस परिवार का विवाद चल रहा है। कमलेश सिंह जेल में बंद है। एक महीना पहले दलित फूलचंद के परिवार ने ठाकुर परिवार पर मुकदमा दर्ज कराया था।

यह भी पढ़ें-कांग्रेस नेता बोले- ममता को अब सोनिया की नहीं मोदी की जरूरत

वहीं अपर पुलिस अधीक्षक गंगापार अभिषेक कुमार अग्रवाल ने बताया कि फाफामऊ के गोहरी मोहनलाल गंज गांव में रेलवे फाटक से पूर्व रहने एक परिवार के चार सदस्यों की सिर एवं गले में धारदार हथियार से प्रहार करके हत्या कर दी गई। मृतकों की पहचान 50 वर्षीय फूलचन्द उनकी पत्नी नीलू, 17 वर्षीय बेटी सपना और 10 वर्षीय बेटे शिव के रुप में हुई है। घटनास्थल से वैज्ञानिक साक्ष्य जुटाने के लिए फॉरेंसिक टीम एवं डॉग स्क्वायड को बुलाया गया है। वहीं एसएसपी ने आश्वासन दिया कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)