लोकसभा स्पीकर पद के लिए पहली बार होगा चुनाव, ओम बिरला के खिलाफ विपक्ष ने के सुरेश को उतारा

49
om-birla-from-nda-and-india-alliance-k-suresh-file-nomination

Lok Sabha Speaker Election, नई दिल्लीः 18वीं लोकसभा के पहले सत्र का आज दूसरा दिन है। लोकसभा स्पीकर को लेकर सरकार और विपक्ष के बीच टकराव बढ़ गया है। लोकसभा अध्यक्ष पद पर आम सहमति नहीं बन पाने के बाद विपक्ष ने अपने उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। के सुरेश विपक्ष के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार होंगे। जबकि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की ओर से ओम बिड़ला ने लोकसभा स्पीकर पद के लिए नामांकन दाखिल कर दिया है। यह पहली बार है जब स्पीकर पद के लिए चुनाव होगा। अध्यक्ष पद के लिए कल 26 जून को सुबह 11 बजे वोटिंग होगी।

इतिहास में पहली बार स्पीकर के लिए होगा मतदान

दरअसल लोकसभा की परंपरा रही है कि अध्यक्ष का चुनाव सर्वसम्मति से होता है। इस बार विपक्ष सदन में मजबूती से उभरा है और डिप्टी स्पीकर पद की मांग कर रहा है। जबकि सरकार इसके लिए तैयार नहीं है। ऐसे में विपक्ष की ओर से केरल से के सुरेश ने भी अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया है।

नामांकन दाखिल करने से पहले राहुल गांधी ने कहा- कांग्रेस अध्यक्ष को स्पीकर के लिए समर्थन के लिए राजनाथ सिंह का फोन आया। विपक्ष ने साफ कहा है कि हम स्पीकर का समर्थन करेंगे, लेकिन विपक्ष को डिप्टी स्पीकर का पद मिलना चाहिए। राजनाथ सिंह ने कहा था कि वे दोबारा फोन करेंगे, हालांकि, अब तक फोन नहीं आया है।

राजनाथ ने खड़गे से तीन बार फोन पर की बात

वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद के बाहर मीडिया से कहा कि मैंने स्पीकर पद (Lok Sabha Speaker Election:) के लिए समर्थन मांगने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से तीन बार फोन पर बात की है। कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल और डीएमके के टीआर बालू से भी मुलाकात की, लेकिन डिप्टी स्पीकर पर जवाब न मिलने पर वे अपने कार्यालय से लौट गए। राजनाथ सिंह के अलावा भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‌डा और गृहमंत्री अमित शाह ने भी विपक्ष को मनाने की तमाम कोशिश की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।

ये भी पढ़ेंः-इमरजेंसी की 50वीं बरसी पर PM मोदी का कांग्रेस पर तीखा हमला, जानें क्या कुछ कहा….

गौरतलब है कि ओम बिड़ला फिर से एनडीए की ओर से स्पीकर पद के उम्मीदवार हैं। राजस्थान के कोटा से सांसद ओम बिड़ला 2019 से 2024 तक स्पीकर रह चुके हैं। अगर वे जीतते हैं तो वे लगातार दूसरी बार लोकसभा स्पीकर का पद संभालने वाले पहले बीजेपी सांसद होंगे। अगर वे अपना कार्यकाल पूरा करते हैं तो वे कांग्रेस के बलराम जाखड़ के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)