फलों का राजा नहीं ‘महारानी’ है ये ‘नूरजहां’ आम ! पेड़ लगते ही शुरू हो जाती है बुकिंग

अलीराजपुर: फलों का राजा कौन ? यह प्रश्‍न सुनते ही हर किसी की जुबान पर फलों का राजा आम होता है। यहां तक कि हर प्रदेशवासी को अपने-अपने इलाके के कोई न कोई किस्‍म के खास आम पसंद होते हैं। तेज़ गर्मी में आम का स्वाद इसके हर पसंद करने वाले को तरोताजा कर देता है। आमों की मल्लिका के रूप में मशहूर ‘नूरजहां’ किस्म एक ऐसा ही खास आम है। इस आम की खासियत ऐसी होती है कि फल लगते ही प्रति आम के हिसाब से इसकी पेड़ पर ही बुकिंग हो जाती है।

हर राज्‍य में आमों की अलग-अलग किस्‍में होती हैं, लेकिन मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले में सभी आमों से हटरकर होता है। ‘नूरजहां’ के नाम से यह प्रसिद्ध यह आम 500 नहीं बल्कि एक हजार रुपए प्रति किलो तक इसकी बाजार में मांग है। इस संबंध में अलीराजपुर के एक किसान मालिक शिवराज सिंह का कहना है कि ‘नूरजहां’ फल के अनुरूप मौसम होने की वजह से इस आम का आकार भी काफी बड़ा होता है।

बताया जाता है कि ‘नूरजहां’ अफगान मूल का आम है। इसकी पैदावार सिर्फ अलीराजपुर के काठियावाड़ क्षेत्र में होती है। यह इलाका गुजरात सीमा से लगा हुआ है। ‘नूरजहां’ आम की तीन पेड़ों के मालिक शिवराज सिंह जाधव ने बताया है कि उनके बागीचे में तीन पेड़ हैं और इनपर 250 आम आए हैं। एक आम की कीमत बाजार में 500 से लेकर 1000 रुपया तक है। पेड़ पर आए इन सभी आमों की बुकिंग भी पहले ही हो चुकी है।

यह भी पढ़ेंः-कोरोना महामारी के बीच पीएम मोदी आज शाम पांच बजे राष्ट्र को करेंगे संबोधित

‘नूरजहां’ की पैदवार करने वाले किसान का कहना है कि मध्य प्रदेश और गुजरात के आम प्रेमियों ने इन आमों की बुकिंग कर दी है। इस वक्त एक ‘नूरजहां’ आम का वजन 2 किलो से लेकर 3.5 किलोग्राम तक है। बता दें कि वर्ष 2020 में आम के हिसास उपयुक्त मौसम नहीं मिल पाने के कारण आम की अच्छी क्‍वालिटी नहीं हुई थी, हालांकि वर्ष 2019 में यह आम बाजार में बड़ी संख्या में उपलब्‍ध हुए थे।