Kathmandu Nepal : भारी बारिश, बाढ़ और भूस्खलन से अब तक 80 की मौत, कई गंभीर

35
nepal-more-than-eighty-dead

काठमांडूः Nepal में इस साल मानसून की शुरुआत के बाद भारी बारिश, बाढ़ और भूस्खलन के कारण अब तक 80 लोगों की मौत हो चुकी है और 100 से अधिक लोग घायल हुए हैं। इस दौरान 2000 से अधिक घरों के क्षतिग्रस्त होने से हजारों लोग बेघर हो गए हैं। गृह मंत्रालय के अनुसार, मानसून की शुरुआत के कारण इस बार कई जगहों पर रिकॉर्ड तोड़ बारिश हुई है।

161 घरों को भी हुआ नुकसान

कुछ जगहों पर पिछले चार दिनों से लगातार बारिश हो रही है, जिसके कारण बाढ़ आ गई है। बाढ़ का असर लगभग सभी राज्यों में दिख रहा है। मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस बार बारिश, बाढ़ और भूस्खलन के कारण अब तक 80 लोगों की मौत हो चुकी है। जानकारी के अनुसार, काठमांडू में एक, कोशी प्रदेश में 19, मधेस प्रदेश में 3, बागमती प्रदेश में 4, गंडकी प्रदेश में 22, लुंबिनी प्रदेश में 20, करनाली प्रदेश में 4 और सुदूरपश्चिम प्रदेश में 7 लोगों की मौत हुई है।

यह भी पढ़ेंः-NEET-UG paper leak case: CBI ने बिहार से दो लोगों को किया गिरफ्तार

इसके अलावा गृह मंत्रालय ने जानकारी दी है कि काठमांडू में 5, कोशी प्रदेश में 25, मधेस प्रदेश में 9, बागमती प्रदेश में 7, गंडकी प्रदेश में 32, लुंबिनी प्रदेश में 13, करनाली प्रदेश में 19 और सुदूरपश्चिम प्रदेश में 31 लोग घायल हुए हैं। जानकारी दी गई है कि बाढ़ और भूस्खलन के कारण पांच लोग अभी भी लापता हैं और उनकी तलाश जारी है। गृह मंत्रालय ने जानकारी दी है कि बाढ़ के कारण 2000 से अधिक घर पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं जबकि 161 घरों को आंशिक नुकसान पहुंचा है। भारी बारिश के कारण विभिन्न नदियों में आई बाढ़ के कारण 41 छोटे-बड़े पुल टूटने की भी जानकारी दी गई है। बाढ़ के कारण एक सरकारी स्कूल भवन और दो सरकारी कार्यालय भवन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)