राष्ट्रपति से मिले एनडीए नेता नरेन्द्र मोदी, नई सरकार के गठन के लिए मिला आमंत्रण

15
narendra-modi-met-the-president

नई दिल्लीः राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को नरेंद्र मोदी को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (nda) के नेता के तौर पर सरकार बनाने का न्योता दिया। इससे पहले एनडीए के घटक दलों के नेताओं ने राष्ट्रपति से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। राष्ट्रपति से मुलाकात और सरकार बनाने का न्योता मिलने के बाद प्रधानमंत्री ने राष्ट्रपति भवन के प्रांगण से अपने संबोधन में कहा कि वह रविवार 9 जून को शाम 6 बजे शपथ लेने के लिए तैयार हैं।

प्रधानमंत्री ने जताया आभार

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति ने उनसे मंत्रिपरिषद के गठन के बारे में जानकारी मांगी है। वह जल्द ही राष्ट्रपति को अपने मंत्रिपरिषद के बारे में जानकारी देंगे। प्रधानमंत्री ने एनडीए सरकार को तीसरी बार समर्थन देने के लिए देशवासियों का आभार जताया और भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार जनहित में काम करती रहेगी। उन्होंने कहा कि एनडीए एक मजबूत, स्थिर और विकासोन्मुखी सरकार बनाएगी। मोदी ने कहा, 18वीं लोकसभा नई ऊर्जा, युवा ऊर्जा और कुछ कर गुजरने के इरादे वाली लोकसभा है।

विकासोन्मुखी सरकार बनाएगी एनडीए

आजादी के अमृत महोत्सव के बाद यह पहला चुनाव है। एक तरह से ये 25 साल हैं, जो हमारे अमृत काल के 25 साल हैं। उन्होंने कहा कि एनडीए एक मजबूत, स्थिर और विकासोन्मुखी सरकार बनाएगी। मैं देशवासियों को विश्वास दिलाता हूं कि पिछले दो कार्यकाल में देश ने जिस गति से प्रगति की है, उससे समाज के हर क्षेत्र में बदलाव साफ दिखाई दे रहा है। 25 करोड़ लोगों का गरीबी से बाहर आना अपने आप में देशवासियों के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया में विश्व बंधु बनकर उभरा है। इसका भरपूर लाभ हमें मिलने लगा है। उन्हें विश्वास है कि अगले 5 साल वैश्विक परिवेश में भी भारत के लिए काफी उपयोगी साबित होने वाले हैं।

यह भी पढ़ेंः-NDA Meeting: जब बैठक में PM मोदी के पैर छूने के लिए झुके नीतीश कुमार…

गौरतलब है कि इससे पहले आज संविधान सभा में भाजपा के वरिष्ठ नेता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तीसरी बार सरकार बनाने के लिए एनडीए संसदीय दल का नेता चुना गया। संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद उन्होंने भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मुलाकात की।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)