IAS के मकान में कुछ ना मिला तो चोर ने लिखी चिट्ठी- घर में पैसे नहीं थे तो लॉक क्यों किया?

देवासः चोरी के कई मामले आपने सुने होंगे लेकिन मध्य प्रदेश में एक चोरी का अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। यहां के देवास जिले में खातेगांव एसडीएम के घर में चोरी करने गए चोर को कुछ ज्यादा हाथ नहीं लगा तो निराश चोर चिट्ठी लिखकर छोड़ गया। इस चिट्ठी में चोर ने लिखा है कि “जब पैसे नहीं थे तो घर लॉक नहीं करना था कलेक्टर”।

ये भी पढ़ें..ट्रक और ट्रेलर में भिड़ंत के बाद लगी भीषण आग, चालक समेत तीन लोग जिंदा जले

मिली जानकारी के मुताबिक 15 दिनों पहले डिप्टी कलेक्टर IAS त्रिलोचन सिंह गौड़ को खातेगांव का एसडीएम नियुक्त किया गया था। डिप्टी कलेक्टर का सरकारी आवास सांसद निवास के बिल्कुल पास है। पिछले 15 दिनों से आवास में ताला लगा हुआ था, इसी दौरान उसमें चोरी की वारदात हो गई। शनिवार को जब एसडीएम आवास में लौटे तो उन्होंने ताला टूटा देखा। पुलिस को सूचना दी गई। इसी दौरान कुर्सी पर उन्हीं की डायरी और पेन का उपयोग कर लिखा गया एक पत्र मिला। उसमें लिखा था कि “जब पैसे नहीं थे तो लॉक नहीं करना था कलेक्टर”।

दरअसल चोर को उम्मीद थी कि सरकारी अधिकारी के आवास में उसे जमकर नगदी और गहने मिलेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिससे नाराज होकर उसने पत्र लिखा। फिलहाल कोतवाली पुलिस ने एसडीएम की रिपोर्ट पर 30 हजार नगद, एक अंगूठी,चांदी की पायल और सिक्के चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज की है। हालांकि अभी तक चोर के बारे में कोई सुराग नहीं लगा है। पुलिस ने चोर खोज रही है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)