राजकीय सम्मान के साथ दी गयी एयरफोर्स जवान को अंतिम विदाई, दो दिन पहले हुई थी हत्या

मोतिहारीः बिहार के मोतिहारी जिले में बीते शुक्रवार को संग्रामपुर थाना क्षेत्र के तिवारी टोला में एयरफोर्स के अधिकारी आदित्य उर्फ आलोक तिवारी की हत्या कर दी गई थी। सूचना पर दरभंगा और गोरखपुर से पहुंचे एयरफोर्स के अधिकारियों ने राजकीय और सैनिक सम्मान के साथ जवान को तिरंगे में लिपट कर अंतिम सलामी दी। एयरफोर्स के धुन पर शव जुलूस निकलते ही हजारों की आंखे नम हो गयी। दूसरी ओर आदित्य हत्याकांड में शराब कारोबारियों की संलिप्तता की बात सामने आ रही है।

ये भी पढ़ें..हिमाचल में बेकाबू हुआ Corona: 26 जनवरी तक शिक्षण संस्थान बंद, जल्द लगेगा वीकेंड कर्फ्यू

7 नामजद सहित 25 अज्ञात पर हत्या का मुकदमा दर्ज

आदित्य के पिता चंदेश्वर तिवारी की ओर से दिए गये आवेदन पर दर्ज की गयी प्राथमिकी में 7 नामजद सहित 20-25 अज्ञात शराब करोबारियों पर हत्या करने का आरोप लगाया गया है। जिसमे कहा गया है कि शराब कारोबार करने वाले गिरोह के लोग हमारे घुसियार नहर स्थित खेत के रास्ते शराब ढोने का काम कर रहे थे। जिससे फसल बर्बाद हो रहे थे। इसका विरोध करने पर ही मेरे पुत्र एयरफोर्स जवान आदित्य की हत्या कर दी गयी। मृतक जवान के पिता के आवेदन संग्रामपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है।

इस बाबत एएसपी अभिनव धीमान ने बताया कि आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर लगातार छापेमारी की जा रही है। हालांकि उक्त घटना के बाद गांव मे मातम और पूरे जिले में क्षोभ व्याप्त है। केसरिया विधायक शालिनी मिश्रा,समाजसेवी आलोक शर्मा,पूर्व विधायक सचिन्द्र सिंह,भाजपा नेता मयंकेश्वर सिंह,राजद नेता बबलू देव,मुखिया रवि सिंह सहित अनेक राजनैतिक समाजिक संगठनो ने भारतीय सेना के जवान के नृशंस हत्या पर क्षोभ व्यक्त करते हुए हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)