स्मार्ट हो चुके 5 हजार से अधिक परिषदीय विद्यालय: सतीश द्विवेदी

73

 

लखनऊः विधानभवन राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के क्रियान्वयन के लिए उपमुख्यमंत्री  में गठित टास्क फोर्स की पांचवी बैठक सोमवार 4 जनवरी को आयोजित हुई। इसमें उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) डॉ. सतीश चन्द्र द्विवेदी ने कहा कि विद्यालयों में शैक्षिक गतिविधियों को बेहतर बनाने के लिए प्रत्येक विद्यालय को स्मार्ट विद्यालय बनाने की कार्य योजना तैयार की गई है।

तैयार की गई कार्ययोजना के अनुसार, विद्यालयों में सामुदायिक सहयोग से समार्ट टीवी उपलब्ध कराने का प्रयास किया जायेगा। छात्रों को पूरक पाठ्य योजना हेतु आॅनलाइन सामग्री दीक्षा पोर्टल पर उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि 5,000 से अधिक विद्यालयों को स्मार्ट विद्यालय के रूप में परिवर्तित किया जा चुका है। माह दिसम्बर 2021 तक प्रत्येक विद्यालय को सुनियोजित उन्नयन किये जाने की योजना है। उन्होने कहा कि निष्ठा कार्यक्रम के अन्तर्गत गत शैक्षिक वर्ष में समस्त शिक्षकों का बेसिक एवं स्कूल लीडरशिप प्रशिक्षण कार्यक्रम किया जा चुका है।

यह भी पढे़ंः पंचायत चुनाव: कील-कांटे दुरूस्त कर रही भाजपा

छात्रों के आधार नम्बर को प्रेरणा पोर्टल पर उपलब्ध डाटाबेस में यूनीक छात्र रजिस्ट्रेशन नम्बर से लिंक किया जा रहा है। भविष्य में विद्यार्थियों के समस्त कक्षाओं के प्रमाण-पत्र प्रेरणा पोर्टल को आधार से संयोजित करते हुए डिजी लाॅकर में संयोजित किय जा सकेंगे। उन्होंने कहा कि स्कूलों के डिजिटलाइजेशन को बढ़ावा देने तथा शिक्षकों और छात्रों से संबंधित सभी सूचनाओं और सेवाओं को ऑनलाइन करने हेतु प्रदेश की सभी परिषदीय विद्यालयों को टैबलेट उपलब्ध कराने की योजना है।