मोबाइल एप से जान सकेंगे कहां है चार्जिंग स्टेशन, वाहन मालिकों दिए जाएंगे ये कार्ड

नई दिल्लीः यह सुनिश्चित करने के लिए कि इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग करने वाले मोटर चालकों को निकटतम सक्रिय चार्जिंग स्टेशनों पर वास्तविक समय के डेटा तक पहुंच मिल सके, इसे लेकर ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) एक मोबाइल ऐप के साथ-साथ एक वेब पोर्टल भी विकसित कर रहा है ताकि यह जानकारी प्रदान की जा सके। सूत्र प्रिवी टु डेवलपमेंट्स के अनुसार, ऐप और वेब पोर्टल अपने मार्ग पर उपलब्ध निकटतम सक्रिय चार्जिग स्टेशनों के बारे में मोटर चालकों को वास्तविक समय की जानकारी प्रदान करेगा।

सूत्रों ने आगे सूचित किया कि बीईई इन सॉफ्टवेयर्स को विकसित करने के लिए केंद्रीय नोडल एजेंसी है और इस पर काम जल्द ही पूरा होने की उम्मीद है। बिजली मंत्रालय ने इस साल जनवरी में इन सॉफ्टवेयर्स को विकसित करने के लिए दिशानिर्देश जारी किए थे। सूत्रों ने कहा कि चार्जिग इन्फ्रास्ट्रक्चर पर लाइव डेटा प्रदान करने वाले मोबाइल ऐप और वेब पोर्टल में गतिशीलता सेवाओं में सुधार करने में मदद मिलेगी।

सरकार समर्पित स्थानों पर इलेक्ट्रिक पोल पर स्मार्ट मीटर स्थापित करने और राजमार्गों, शहरों और यहां तक कि गांवों में छोटे चार्जिंग स्टेशन बनाने में भी काम कर रही है। इलेक्ट्रिक वाहन मालिकों को उनके वाहनों की बैटरी चार्ज करने के लिए स्मार्ट कार्ड दिए जाएंगे।

सूत्रों ने कहा कि बीईई इन चार्जर्स को विकसित करेगी, जिसमें दो-पहिया वाहनों और तीन-पहिया वाहनों जैसे हल्के इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने के लिए चार्जर शामिल होंगे।बीईई के अनुसार, इन चार्जर्स के पास इलेक्ट्रिक एनर्जी को मापने और पंजीकृत करने के लिए प्रावधान में निर्मित होगा और मोबाइल ऐप के माध्यम से उपयोगकर्ता प्रमाणीकरण पर इलेक्ट्रिक वाहनों के चार्ज करने के लिए एक प्रावधान होगा। सूत्रों को आगे सूचित किया कि इस तरह के चार्जर्स को सार्वजनिक पार्किंग स्थानों में बिजली के खंभे पर रखा जाएगा।

अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक औरट्विटरपर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…