Central Coal Ministry: कोयला गैसीकरण प्रोजेक्ट में तेजी लाने के लिए होगी बैठक

30

नई दिल्ली: केंद्रीय कोयला मंत्रालय (Central Coal Ministry) शुक्रवार को हैदराबाद में ऊर्जा क्षेत्र से जुड़े उद्योग के हितधारकों के साथ बैठक की मेजबानी करेगा। इसका उद्देश्य देशभर में कोयला एवं लिग्नाइट गैसीकरण प्रोजेक्ट के विकास और प्रसार में तेजी लाना है। कोयला मंत्रालय ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि, कोयला सचिव अमृत लाल मीना इस बैठक के मुख्य अतिथि होंगे। साथ ही बैठक में कोल इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष पीएम प्रसाद भी मौजूद रहेंगे।

केंद्र सरकार ने भविष्य में ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने के लिए कोयला एवं लिग्नाइट गैसीकरण प्रोजेक्ट को बढ़ावा देने के लिए 8,500 करोड़ रुपये की योजना को मंजूरी दी। साथ ही गैसीकरण प्रोजेक्ट की योजना तीन श्रेणियों के तहत बनाई गई है। ऊर्जा क्षेत्र से जुड़े उद्योग हितधारकों के साथ रणनीतिक साझेदारी के माध्यम से कोयला मंत्रालय गैसीकरण प्रौद्योगिकियों को अपनाने में तेजी लाना चाहता है। इसके साथ ही कोयला एवं लिग्नाइट-आधारित ऊर्जा समाधानों के लिए एक मजबूत इको-सिस्टम के विकास को सुगम भी बनाना चाहता है।

ये भी पढ़ें…Farmers Protest 2024: किसान आंदोलन को लेकर ​कई गांवों में उथल-पुथल

ये आयोजन कोयला एवं लिग्नाइट गैसीकरण प्रोजेक्ट से जुड़े अवसरों और चुनौतियों पर विचार-विमर्श करने के लिए नीति निर्माताओं, उद्योग जगत के नेताओं और निवेशकों सहित प्रमुख हितधारकों को एक मंच पर लाएगा। इसके जरिए प्रतिभागी गहन चर्चाओं में भाग लेंगे, सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करेंगे और देश में गैसीकरण पहलों के विकास को बढ़ावा देने के लिए सहयोग के रास्ते तलाश करेंगे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)