मनोज तिवारी ने संदीप भारद्वाज की आत्महत्या को बताया मर्डर, की उच्चस्तरीय जांच की मांग

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के सांसद मनोज तिवारी ने आज बीजेपी प्रदेश कार्यालय पर कहा कि आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता संदीप भारद्वाज ने आत्महत्या नहीं की बल्कि उनकी हत्या हुई है। ऐसा इसलिए भी बोलना सही है क्योंकि जो जानकारी अभी तक सामने आयी है वह सभी यही इशारा कर रही है। इसलिए हमारी मांग है कि इस आत्महत्या की उच्चस्तरीय जांच हो जिससे इस केस के तह तक जाकर असली वजह की जानकारी साफ हो।

आगे मनोज तिवारी ने कहा कि प्रदीप भारद्वाज को आम आदमी पार्टी की ओर से निगम चुनाव के लिए टिकट देने का भरोसा दिया गया था, वह आम आदमी पार्टी के फाउंडर मेंबर मे से एक थे। लेकिन जब टिकट देने की बात आई तो उस वार्ड से टिकट की खरीद फरोख्त की गई जिसे संदीप भारद्वाज सहन नहीं कर पाए क्योंकि उनकी उम्मीदों को गहरा सदमा लगा और उन्होंने आत्महत्या कर ली। तिवारी ने कहा की आत्महत्या के लिए मजबूर करना भी हत्या के बराबर ही होता है जिसके जिम्मेदार खुद अरविन्द केजरीवाल और आप का पूरा शीर्ष नेतृत्व है।

ये भी पढ़ें-राज्य सरकार का बड़ा कदम, आधुनिक कृषि तकनीक के लिए 100…

अंत में मनोज तिवारी ने कहा कि अभी कुछ दिन पहले ही एक और इसी तरह निगम पार्षद के टिकट को खरीद फरोख्त के कारण आप विधायक को जनता द्वारा दौड़ाकर पीटते हुए वीडियो वायरल हुआ। उन्होंने कहा कि कट्टर ईमानदारी की बात करने वालों के द्वारा एक कार्यकर्ता को आत्महत्या के लिए मजबूर करना काफी शर्मनाक है और भाजपा इसकी कड़ी निंदा करती है। आज आप के शीर्ष नेतृत्व की मानवता मर चुकी है। जबकि उनके द्वारा एक शब्द इस विषय पर बयान तक नहीं दिया गया है जो उनकी मानसिकता को दर्शाता है।

अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक औरट्विटरपर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…