तेजी से बढ़ते संक्रमण के बीच लॉकडाउन को लेकर केजरीवाल का बयान, जानिए स्थिति

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में कोविड-19 ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। वहीं बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को दिल्ली के सबसे बड़े कोविड-19 अस्पताल में स्थिति का जायजा लिया। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इस दौरान कहा कि दिल्ली में लॉकडाउन नहीं लगा रहे हैं। बढ़ते कोविड-19 के चलते पाबंदियां लगाई जा रही हैं, लेकिन जैसे ही स्थिति नियंत्रण में होगी सभी पाबंदियों को हटा लिया जाएगा।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ. सुरेश कुमार पूरी टीम के साथ कोविड-19 से संबंधित तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि यहां पर अब तक 22 हजार से अधिक मरीजों का उपचार किया जा चुका हैं। इसके अलावा उन्होंने कहा कि यह एक ऐसा अस्पताल है जिसने किसी भी गर्भवती महिला को कोविड-19 के दौरान उपचार करने से इनकार नहीं किया है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि कोविड-19 की मौजूदा वेव काफी माइल्ड है। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि अप्रैल माह में जो वेव आई थी। वह काफी खतरनाक थी। मौजूदा समय में लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में 136 मरीज कोरोना के भर्ती हैं। जिसमें से केवल छह मरीज ऐसे हैं जो केवल कोविड-19 से संक्रमित हैं। इसमें 130 मरीज ऐसे हैं जो पहले से कई बीमारियों से ग्रसित हैं।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि पूरी दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में लगभग ढाई हजार के मरीज भर्ती हैं उनमें केवल कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या काफी कम होगी। साथ ही कहा कि लेकिन दिल्ली सरकार हर स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है जरूरत पड़ी तो 37 हजार बेड और 10 हजार से अधिक आईसीयू बेड तैयार कर सकते हैं लेकिन अभी जरूरत नहीं पड़ी है।

वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी जो भी पाबंदियां लगाई गई हैं वह फिलहाल की स्थिति और मजबूरी में लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर लॉकडाउन लगा देते हैं तो लोगों के रोजगार इससे प्रभावित होंगे, लेकिन अगर पाबंदियां ना लगाएं तो इससे संक्रमण का खतरा बना रहता है, लेकिन दिल्ली सरकार सभी को आश्वस्त करता है कि जैसे ही स्थिति में सुधार होगा सभी पाबंदियों हटा लिये जायेगा।

यह भी पढ़ेंः-जावेद हबीब के जवाब से संतुष्ट नहीं राष्ट्रीय महिला आयोग, जांच करने के दिए निर्देश

वहीं सीएम केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार से अपील करेंगे कि दिल्ली के अंदर केवल पाबंदियां लगाने से काम नहीं चलेगा जो पाबंदी दिल्ली में लगाई जा रही है वह दिल्ली – एनसीआर में भी लागू हो। इस दौरान उन्होंने कहा कि डीडीएमए की मीटिंग में मौजूद केंद्र सरकार के प्रतिनिधियों ने एनसीआर में भी पाबंदियों को लागू करवाने का आश्वासन दिया है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)