यूट्यूबर ध्रुव राठी मामले में केजरीवाल ने मांगी माफी, SC में कही ये बात

3

Delhi News: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में अपनी गलती स्वीकार कर ली। मुख्यमंत्री ने कहा, ”यूट्यूबर ध्रुव राठी द्वारा बीजेपी के खिलाफ पोस्ट किए गए वीडियो को रीट्वीट करके मैंने गलती की है। संजीव खन्ना की पीठ केजरीवाल द्वारा दायर विशेष अनुमति याचिका पर सुनवाई कर रही थी।

दरअसल, केजरीवाल ने आपराधिक मानहानि मामले में अपने खिलाफ जारी समन को रद्द करने की मांग खारिज होने के विरोध में यह याचिका दायर की थी। जस्टिस दीपांकर दत्ता की बेंच अब इस मामले की सुनवाई 11 मार्च को करेगी। इस बीच, मामले की सुनवाई पर रोक जारी रहेगी।

5 फरवरी को दिल्ली हाई कोर्ट की स्वर्णकांता शर्मा की बेंच ने सीएम केजरीवाल के खिलाफ जारी समन को बरकरार रखा था। कोर्ट ने यह निर्देश देते हुए कहा कि मानहानिकारक सामग्री को दोबारा ट्वीट करना भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 499 के अनुसार मानहानि के अपराध के अंतर्गत आता है।

यह भी पढ़ें-गौहत्या करने वाले होंगे सलाखों के पीछे, पुलिस ने कसा शिकंजा

मजिस्ट्रेट ने री-ट्वीट के मामले को प्रथम दृष्टया मानहानिकारक मानते हुए केजरीवाल को समन जारी किया था। केजरीवाल के खिलाफ ‘आई सपोर्ट नरेंद्र मोदी’ फेसबुक पेज के संस्थापक विकास पांडे ने शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने दावा किया था कि केजरीवाल द्वारा वीडियो रीट्वीट करने से उनकी छवि खराब हुई है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)