आतंकियों की कायराना हरकत पर मोदी-शाह ने जताया दुख, कहा- दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

9
kashmir-reasi-terrorist-attack-on-bus-pm-modi-amit-shah

Reasi Terrorist Attack, जम्मू:  जम्मू-कश्मीर में श्रद्धालुओं को ले जा रही बस पर हुए आतंकी हमले ने एक बार फिर देश को झकझोर कर रख दिया है। यह हमला रविवार शाम को जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में हुआ। बस में सवार ज्यादातर श्रद्धालु उत्तर प्रदेश के थे। जब गोलियां चलीं तो बस खाई में गिर गई। इस घटना में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 33 अन्य घायल हुए हैं।

Reasi Terrorist Attack: पीएम मोदी ने उपराज्यपाल को दिए ये निर्देश

उधर इस हमले के बाद लोगों भारी आक्रोश है। वहीं जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में श्रद्धालुओं की बस पर हुए आतंकवादी हमले के बाद पीएम मोदी ने हालात का जायजा लिया। उन्होंने उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से स्थिति पर लगातार नजर रखने और प्रभावित परिवारों को हर संभव मदद सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। वहीं अमित शाह ने हमले पर दुख जताते हुए कहा कि आतंकी हमले में शामिल दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा- अमित शाह

केंद्रीय मंत्री के रूप में शपथ लेने के तुरंत बाद शाह ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा कि जम्मू कश्मीर के रियासी में तीर्थयात्रियों पर हुए हमले की घटना से बहुत दुखी हूं। ‘‘ईश्वर मृतकों के परिजनों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की भी कामना करता हूं।” शाह ने आगे कहा कि जम्मू कश्मीर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और पुलिस महानिदेशक आर.आर. स्वैन से घटना के बारे में जानकारी ली। इस कायराना हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।”

उधर, जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने एक एक्स पोस्ट में कहा कि मैं रियासी में बस पर हुए कायरतापूर्ण आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता हूं। शहीद नागरिकों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं। हमारे सुरक्षा बलों और जेकेपी ने आतंकवादियों की तलाश के लिए एक संयुक्त अभियान शुरू किया है।

शिवखोड़ी से कटरा लौट रही थी बस

बता दें कि यात्रियों से भरी बस (JK 02 AE 3485) उत्तर प्रदेश के तीर्थयात्रियों को लेकर शिवखोड़ी से कटरा लौट रही थी। बस में 45 यात्री सवार थे। पौनी और शिवखोड़ी के बीच कंडा त्रयाठ क्षेत्र में चंडी मोड़ के पास बस पर घात लगाए आतंकियों ने फायरिंग कर दी। बस पर करीब 30 गोलियां चलाई गईं जिससे चालक संतुलन खो बैठा और बस 200 फीट गहरी खाई में जा गिरी।

ये भी पढ़ेंः- Jammu Kashmir Terror Attack: जम्मू-कश्मीर में श्रद्धालुओं से भरी बस पर बड़ा आतंकी हमला, 10 लोगों की मौत

खाई में बस गिरती तो किसी को न छोड़ते जिंदा

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि सेना जैसी वर्दी पहने हुए आतंकी अचानक बस के सामने आए और आंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगते ही चालक संतुलन खो बैठा और बस खाई में गिर गई। खाई में गिरी बस पर भी फायरिंग होती रही। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो बस खाई में न गिरती तो किसी को भी जिंदा न छोड़ते।

घाटना के बाद चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय लोग और प्रशासनिक टीम मौके पर पहुंची और बचाव कार्य शुरू किया। इस हमले में 10 लोगों की मौत हो गई, जबकि 33 अन्य घायल हो गए। घायलों को गहरी खाई से निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया।

सुरक्षाबलों का सर्ज ऑपरेशन जारी

उधर रियासी जिले में रविवार शाम को हुए बस पर आतंकी हमले के बाद सुरक्षाबलों ने सोमवार को पूरे इलाके में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। सुरक्षाबलों ने आने-जाने वाले सभी रास्तों को बंद कर दिया है। इसमें ड्रोन और खोजी कुत्तों की मदद भी ली जा रही है। साथ ही इस हमले की जांच एनआईए को सौंप दी गई है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)