जोधपुर एक्सप्रेस बड़े हादसे से बची, कपलिंग खुलने से दो हिस्सों में बंटी ट्रेन

8
-train-divided-into-two-parts-due-to-opening-of-coupling

सागर: जिले के बीना के महादेवखेड़ी रेलवे स्टेशन के पास शुक्रवार रात एक बड़ा हादसा टल गया। दरअसल, भोपाल से जोधपुर जा रही ट्रेन क्रमांक 14814 जोधपुर एक्सप्रेस शुक्रवार रात बीना और मुंगावली स्टेशन के बीच अचानक दो हिस्सों में बंट गई।

इंजन समेत चार डिब्बे हुए अलग

ट्रेन के इंजन समेत चार डिब्बे आगे बढ़ गए और बाकी हिस्सा पीछे रह गया। अचानक हुई इस घटना से ट्रेन में सवार यात्रियों में हड़कंप मच गया और वे घबराकर नीचे उतर गए। घटना की जानकारी मिलने के बाद ट्रेन को रोका गया और मरम्मत का काम किया गया। इसके बाद ट्रेन मुंगावली के लिए रवाना हुई। जानकारी के मुताबिक, भोपाल से मुंगावली जा रही जोधपुर एक्सप्रेस शुक्रवार रात निर्धारित समय से करीब 15 मिनट देरी से बीना पहुंची और पांच मिनट के स्टॉपेज के बाद गंतव्य के लिए रवाना हुई, लेकिन जैसे ही ट्रेन आगे बढ़ी तो बीना और मुंगावली के बीच अचानक उसकी कपलिंग खुल गई और वह दो हिस्सों में बंट गई। इससे ट्रेन का अगला हिस्सा 40-50 फीट आगे चला गया। झटके के बाद जब ट्रेन रुकी तो यात्री नीचे उतरे तब उन्हें पता चला कि ट्रेन की कपलिंग टूट गई है और उन्होंने राहत की सांस ली।

यह भी पढ़ें-सावधान ! अगर आप भी करते हैं ऐसे ‘माउथवॉश’ का इस्तेमाल तो पहले पढ़ लें ये रिसर्च

जब ट्रेन के ड्राइवर और गार्ड को पता चला तो उन्होंने इंजन और उससे जुड़े कोच को पीछे किया और वापस आकर कपलिंग को जोड़ा। इसके बाद ट्रेन अपने गंतव्य के लिए रवाना हुई। इस पूरी प्रक्रिया में ट्रेन करीब 55 मिनट तक घने अंधेरे में सुनसान इलाके के बीच ट्रैक पर खड़ी रही। गनीमत रही कि इस दौरान ट्रेन धीमी गति से चल रही थी, नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था।

कोच को जोड़ने वाला कनेक्शन टूटा

बीना रेलवे स्टेशन के जनसंपर्क अधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि बीना और महादेव खेड़ी स्टेशन के बीच होम सिग्नल पर ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई थी। ट्रेन स्टाफ ने समझदारी दिखाते हुए दोनों हिस्सों को जोड़कर ट्रेन को रवाना किया। किसी तरह की कोई बड़ी घटना नहीं हुई। उन्होंने बताया कि ट्रेन में दो तरह के कोच थे। ये एलएचबी और आईसीएफ के थे। दोनों तरह के कोच को जोड़ने के लिए जो कनेक्शन लगाया गया था, वह टूट गया। जिससे ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई। जब यात्रियों को दुर्घटना के बारे में पता चला तो वे घबरा गए, लेकिन ट्रेन स्टाफ ने उन्हें सांत्वना दी।

 (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)