मध्य प्रदेश

इतिहास में दर्ज किया जाएगा कि कांग्रेस ने राम मंदिर का किया था विरोध-शिवराज सिंह चौहान

blog_image_661bf090b433f

भोपाल: पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को संविधान निर्माता डॉ। बाबा साहब अंबेडकर की जयंती पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और देश एवं प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दीं। साथ ही बैसाखी के पावन पर्व पर उन्होंने भोपाल के तात्या टोपे नगर स्थित गुरुद्वारे में पहुंचकर मत्था टेका और सभी की खुशहाली के लिए प्रार्थना की। उन्होंने बालाघाट संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी भारती पारधी के समर्थन में 10 से अधिक गांवों में पहुंचकर प्रचार किया। कार्यकर्ता सम्मेलन और जनसभा को भी संबोधित किया।

पूर्व मुख्यमंत्री चौहान ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। देश खुशी और जश्न में डूबा हुआ था, युवाओं का उत्साह चरम पर था, लेकिन कांग्रेस पार्टी गमगीन थी। उन्हें भी निमंत्रण दिया गया था लेकिन उन्होंने लिखित में कहा कि वे नहीं जायेंगे। जब तक धरती रहेगी तब तक इतिहास में ये बात रहेगी कि कांग्रेस ने राम मंदिर का विरोध किया था। सभी विचारशील नेता कांग्रेस छोड़ रहे हैं। कांग्रेस की हालत ऐसी हो गई है कि अब कांग्रेस को इंदिरा जी की सीट रायबरेली से कोई उम्मीदवार नहीं मिल रहा है। दुर्गति ऐसी हो गई कि मैडम सोनिया ने कह दिया कि वह चुनाव नहीं लड़ेंगी, राज्यसभा में उनकी एंट्री पिछले दरवाजे से हो गई। सोनिया गांधी मैदान छोड़कर चली गईं और राहुल गांधी अमेठी छोड़कर वायनाड चले गए। कांग्रेस समाप्ति की ओर है।

बीजेपी का संकल्प पत्र

बीजेपी के घोषणा पत्र को लेकर शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यह बाबा साहब की जयंती पर जनता की आकांक्षाओं को पूरा करने का संकल्प पत्र है। जिसे सिर्फ कुछ लोगों ने बैठ कर नहीं बनाया, बल्कि प्रधानमंत्री के आह्वान पर 15 लाख से ज्यादा सुझाव आये हैं। व्यक्तियों और संगठनों ने सुझाव दिये हैं। सही मायनों में यह जनता का, जनता के लिए और जनता द्वारा घोषणापत्र है। जिसमें 2047 में भारत कैसा होगा इसका रोडमैप बनाया गया है। विकसित भारत का लक्ष्य और उसे हासिल करने के हर संभव समाधान पर समाज के हर वर्ग का कल्याण निहित है। उन्होंने कहा कि इन्फ्रा का विकास एक तरफ पर्यटन को आगे बढ़ाने और अनंत रोजगार की संभावना का संकल्प है। यह गरीबी से पूर्ण मुक्ति का संकल्प पत्र है। यह महिला सशक्तिकरण का संकल्प पत्र है। दीदी बनेंगी तीन करोड़ लखपति, ये किसानों की आय बढ़ाने का संकल्प पत्र है। लोगों की आकांक्षाओं को ध्यान में रखते हुए, उन्हें पूरा करने के लिए एक ठोस रोडमैप है और मुझे लगता है कि पूरा देश इसका स्वागत करेगा।

हर बहन बनेगी लखपति दीदी

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने बचपन में देखा था कि बेटे और बेटियों में भेदभाव होता था। जब मैं सांसद बना तो मैंने अपनी बेटियों की शादी करनी शुरू कर दी। फिर जब वे मुख्यमंत्री बने तो सबसे पहले उन्हें लाड़ली लक्ष्मी बनाने का सौभाग्य मिला। तब बहनों को प्यारी बहनें बनाने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। अब हमें करोड़पति बहन बनना है। बहन क्यों बेचारी रही, क्यों आँसुओं के सागर में डूबी रही। तुम्हें दुःख के सागर में डूबने नहीं दूँगा। जीने और मुस्कुराने का अधिकार सिर्फ आपको है। प्रधानमंत्री ने संकल्प पत्र में लखपति दीदी योजना के बारे में भी कहा है। लखपति दीदी यानी हर बहन की सालाना आय 1 लाख रुपये से ज्यादा है।

 यह भी पढ़ेंः-अनुराग ठाकुर का विपक्ष पर तंज, बोले टुकड़े-टुकड़े इंडी गठबंधन का घोषणा पत्र भी टुकड़ों में

कार्यकर्ता हमारी जान

शिवराज सिंह ने कहा कि इस बार प्रधानमंत्री मोदी ने 400 पार का लक्ष्य रखा है। बीजेपी के सामने अकेले 370 का लक्ष्य है और एनडीए के साथ हमने 400 का लक्ष्य पार कर लिया है। उन्होंने कहा कि 400 पार का यह लक्ष्य हमारे कार्यकर्ताओं के बिना हासिल नहीं किया जा सकता। कार्यकर्ता हमारी जान हैं। इसलिए अपने घरों से निकलें और चुनाव प्रचार में जुट जाएं। हर बूथ पर मजबूती से काम करें। घर-घर जाकर जनसंपर्क करें और मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दें। उन्होंने कहा कि 400 पार का लक्ष्य पूरा करना है और मध्य प्रदेश से 29 खिले हुए कमल के फूलों की माला मोदी के गले में डालनी है और मोदी को तीसरी बार देश का प्रधानमंत्री बनाना है।

प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत विकसित बनेगा

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी युगपुरुष हैं, उन्होंने अद्भुत काम किया है। मोदी के नेतृत्व में गौरवशाली, वैभवशाली, सशक्त, समृद्ध और खुशहाल भारत का निर्माण हो रहा है। कांग्रेस सरकार के दौरान दुनिया में कहीं भी भारत को सम्मान नहीं मिलता था, लेकिन मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत पूरी दुनिया में मशहूर हो गया है। पहले छोटे-छोटे देश हमें डराते थे, पाकिस्तान भी हमें घूरता था, लेकिन मोदी ने कहा कि ये नया भारत है। हम किसी को नहीं छेड़ेंगे लेकिन अगर कोई हमें छेड़ेगा तो हम उसे छोड़ेंगे नहीं। आज भारत हम पर राज करने वाले अंग्रेजों को पीछे छोड़ चुका है। भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है और मोदी जी के तीसरे कार्यकाल में भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। उन्होंने कहा कि, मुझे पूरा विश्वास है कि भारत देश बनेगा।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)