राफाः राहत शिविर पर बड़ा हमला, पूरे इलाके में दागे गए गोले, 22 लोगों की मौत, कई घायल

73
israel-palestine-war-rafa

जेनेवाः राफा शहर के उत्तरी हिस्से में फिलिस्तीनी शरणार्थियों के बीच राहत कार्य में लगे रेड क्रॉस कार्यालय को भी शुक्रवार को हुए हमले में काफी नुकसान पहुंचा है। विस्थापित लोगों से घिरे इस इलाके में दागे गए गोले में 22 लोगों की मौत हो गई है। इस दौरान 45 घायल लोगों को रेड क्रॉस फील्ड अस्पताल ले जाया गया।

हमास ने इजरायल को बताया जिम्मेदार

रेड क्रॉस की अंतरराष्ट्रीय समिति के अनुसार, 21 जून को हुए हमले में 22 लोगों की मौत हो गई थी। हमले में गाजा स्थित रेड क्रॉस कार्यालय को नुकसान पहुंचा है। रेड क्रॉस का यह कार्यालय सैकड़ों विस्थापित लोगों से घिरा हुआ है जो तंबुओं में रह रहे हैं।

हालांकि, आईसीआरसी ने यह नहीं बताया कि हमले के लिए कौन जिम्मेदार है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर इसकी ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि हमले के दौरान दागे गए गोले से आईसीआरसी कार्यालय की इमारत को नुकसान पहुंचा है। गोलाबारी के बाद 22 शवों और 45 घायलों को रेड क्रॉस फील्ड अस्पताल ले जाया गया।

हमास संचालित क्षेत्र के स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी कहा कि गोलाबारी में 25 लोग मारे गए और 50 घायल हुए हैं। हमास ने हमले के लिए इजरायल को जिम्मेदार ठहराया है। मंत्रालय ने कहा कि इजरायली गोलाबारी ने अल-मवासी इलाके में विस्थापित लोगों के तंबुओं को निशाना बनाया जो आईसीआरसी बेस के आसपास है।

इजरायल ने किया हमले से इनकार

जबकि इजरायली रक्षा बल के प्रवक्ता ने घटना में किसी भी भूमिका से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि घटना की समीक्षा की जा रही है। संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि गाजा में कोई भी जगह सुरक्षित नहीं है और मानवीय स्थिति बहुत खराब है। लोग बिना पर्याप्त भोजन, पानी या चिकित्सा आपूर्ति के तंबुओं में रह रहे हैं। हालांकि, इजरायल का कहना है कि वह हमास के लड़ाकों और बुनियादी ढांचे को निशाना बना रहा है और आम नागरिकों की मौत को कम करने की कोशिश कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः-Madhya Pradesh: नशे में धुत पुलिसकर्मी ने 14 वाहनों को मारी टक्कर, सात घायल

हमास को खत्म करने के लिए इजरायल का अभियान अपने नौवें महीने में पहुंच गया है। इस दौरान गाजा में तबाही के लिए इजरायल को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निशाना बनाया जा रहा है। इजरायली हमलों में गाजा में 37,100 से अधिक लोग मारे गए हैं। 7 अक्टूबर के हमले के बाद इजरायल ने हमास को खत्म करने के लिए गाजा में बड़े पैमाने पर अभियान चलाया। हमास के आतंकवादियों ने दक्षिणी इजरायल पर हमला किया, जिसमें लगभग 1,200 लोग मारे गए और लगभग 250 लोगों को बंधक बना लिया।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)