30 हजार रुपये की रिश्वत ले रहा था इंश्योरेन्स कम्पनी का दलाल, हुआ गिरफ्तार

 

जयपुर: भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) जयपुर टीम ने इंश्योरेन्स कम्पनी का हैड बनकर तीस हजार रुपये की रिश्वत लेते एक निजी व्यवसायी (दलाल) को मंगलवार दोपहर गिरफ्तार किया है। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम आरोपित से पूछताछ कर रही है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आलोक चन्द्र शर्मा ने बताया कि रिश्वत लेते आरोपित भगवान सहाय मीणा (36) निवासी टोडाभीम जिला करौली हाल एमएनआईटी क्वार्टर जयपुर को गिरफ्तार किया गया है। वह निजी व्यवसाय करता है। बानसुर अलवर निवासी परिवादी ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरों में शिकायत दर्ज कराई कि 23 जून को उसकी माताजी की मृत्यु हो जाने के कारण माताजी का इंश्योरेन्स बीमा का क्लेम ग्रामीण बैंक में आवेदन किया। करीब एक पखवाड़ा पूर्व एक व्यक्ति ने उसको कॉल किया,जिसने खुद का नाम भगवान सहाय मीणा बताया और खुद को बीमा कंपनी का हैड बताया।

यह भी पढ़ें-दिल्ली के दो वकीलों ने खरीदीं दाऊद इब्राहिम की 6 संपत्तियां

दो लाख रुपये के बीमा का 20 प्रतिशत राशि 40 हजार रुपये की मांग की। 20 प्रतिशत देने पर ही बीमा क्लेम की रकम खाते में आने की बात कही। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरों ने शिकायत का सत्यापन किया और 30 हजार रुपये की रिश्वत लेने पर सहमत हुआ। मंगलवार दोपहर रिश्वत के 30 हजार रुपये लेते आरोपित भगवान सहाय मीणा को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम ने गिरफ्तार किया।