Monday, June 17, 2024
spot_img
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड की जमीन पर यूपी के किसानों का अवैध कब्जा

उत्तराखंड की जमीन पर यूपी के किसानों का अवैध कब्जा

Haridwar: लक्सर तहसील के गांव माडाबेला और शेरपुर बेला के किसानों की जमीन पर उत्तर प्रदेश के जिला बिजनौर के परगना मडावर के किसानों ने जबरन कब्जा कर रखा है। शिकायत पीडि़त किसानों ने लक्सर उपजिलाधिकारी से कर जमीन को कब्जा मुक्त करवाने की मांग की। जिसके बाद किसानों की शिकायत के आधार पर राजस्व विभाग को जांच के आदेश दिए गये।

अधिकारियों के मिली भगत की आशंका  

सुखदेव पुत्र भगवान सिंह, बलजीत पुत्र भगवान सिंह निवासी शेरपुर बेला औरगजेब सिंह पुत्र मंगत सिंह व बिजेन्द्र सिंह पुत्र सोहन सिंह निवासी ग्राम माडाबेला की खेती की जमीन उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर आ रही है, जिसका सीमाकंन किया जाना था, जो अब तक नहीं हो पाया है। इस सम्बंध में जिलाधिकारी बिजनौर ने 24 जनवरी 2008 को एक पत्र जिलाधिकारी हरिद्वार को प्रेषित किया था। किसानों का आरोप है कि प्रधान ग्राम पंचायत कुन्दनपुर अनुचित रूप से भू माफियाओं से अवैध लाभ प्राप्त करके जिला बिजनौर के कर्मचारियों को एक पक्षीय रूप से फर्जी रिपोर्ट बनावाकर मौजूदा शेरपुर बेला महाजी टीप के मूल रकबे को भी अपने मौके की भूमि बताकर रात्रि में लोगों के खेतों को जबरन जुताई कर फसलों को नष्ट कर देते हैं। जब तक सीमाकंन कार्य न हो जाए तब तक मौके पर यथास्थिति के आदेश किये गये थे। आए दिन सीमा विवाद पर दोनों पक्षों में मारपीट होती रहती हैं।

ये भी पढ़ें: Nayab Singh Saini होंगे हरियाणा के नए मुख्यमंत्री, आज शाम 4 बजे लेंगे शपथ

पीडि़त किसानों ने की कार्रवाई की मांग

पीडि़त किसानों ने उपजिलाधिकारी लक्सर को लिखित प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने बताया कि , इस जमीन पर मामला तनावपूर्ण है, कभी भी कोई भी घटना घट सकती है। इस मामले की जानकारी लक्सर उप जिलाधिकारी गोपाल सिंह चौहान से ली तो उन्होंने बताया कि, मामला मेरे संज्ञान में आया है। खानपुर विधानसभा की कुछ जमीन जो उत्तर प्रदेश की सीमा से लगी है, जिस पर उत्तर प्रदेश के कुछ लोगों ने अवैध रूप से कब्जा कर लिया है। उन्होंने कहा कि, कब्जाधारकां ने अपने क्षेत्रीय लेखपाल की रिपोर्ट पर जमीन पर कब्जा किया है। मामला गंभीर है। खानपुर पुलिस व क्षेत्रीय राजस्व विभाग को जांच के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। जांच रिपोर्ट आने पर अगली कार्रवाई की जाएगी। उत्तराखंड की जमीन पर किसी को भी अवैध रूप से कब्जा नहीं करने दिया जाएगा।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर(X) पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

सम्बंधित खबरें