जालौन में धड़ल्ले से हो रहा है मौरंग का अवैध खनन, प्रशासन मौन

190

जालौनः उत्तर प्रदेश के जालौन में खनन माफिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। मानों उन्हें किसी का भी डर ही नहीं है। न सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ का और न ही सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का। वहीं आपको बता दें कि जनपद जालौन मैं कई खदानों से अवैध खनन को लेकर लगातार जुड़े वीडियो भी सामने आ रहे हैं । जहां खनन माफिया सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी के नियमों को ताक पर रखकर अवैध खनन के खेल को अंजाम दे रहे हैं।

करोड़ों का राजस्व भी हो रहा चोरी

खनन माफिया जिला प्रशासन की आंखों में धूल झोंककर करोड़ों का राजस्व चोरी कर रहे हैं। खास बात ये है कि राजस्व चोरी और अवैध खनन का ये खेल लगातार जारी है। इस काम में बड़ा नेटवर्क काम कर रहा है। जानकारी के मुताबिक खनन माफिया और लोकेशन माफिया की मिली भगत से काम चल रहा है। इसके तहत सैकड़ों की संख्या में ओवरलोड ट्रक बिना रॉयल्टी के जिले से निकाले जा रहे हैं। ट्रक निकालने में करियर लोकेशन गैंग के गुर्गे रात भर हाईवे पर मौरंग से भरे ओवरलोड ट्रक निकलवाते हैं। इसके अलावा नदी की जलधारा को रोककर हैवी वेट पोकलैंड मशीनों का तेजी से इस्तेमाल हो रहा है। इन पोकलैंड मशीनों से अवैध खनन किया जा रहा है, जिससे जिला प्रशासन और खनिज विभाग की भूमिका भी संदिग्ध नजर आ रही है। एक अनुमान के मुताबिक माफिया द्वारा जालौन में करोड़ों के सरकारी राजस्व को चूना लगाया जा रहा है। वहीं जब कमिश्नर झांसी आदर्श सिंह जालौन दौरे पर आए थे। जब उनसे अवैध खनन को लेकर सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कि कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं, फिर इसके बाद चुप्पी साध ली। इसके बाद वह गाड़ी में बैठकर वहां से रवाना हो गए।

रिपोर्ट- मयंक राजपूत, जालौन, यूपी