होटल मैनेजमेंट: सुनहरे भविष्य की राह

लखनऊः अगर आपको नए-नए लोगों से मिलना और उनसे बातें करना अच्छा लगता है तो आपके लिए होटल मैनेजमेंट एक बेहतरीन करियर विकल्प हो सकता है। आज के समय में होटल मैनेजमेंट एक बेहतरीन करियर ऑप्शन बनकर हमारे सामने उपलब्ध हुआ है।

दरअसल, दुनिया भर के टूरिस्ट को दुनिया घूमने, देखने, जानने और समझने में सहयोग करने में होटल इंडस्ट्री ने बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। किसी बड़े होटल या होटल के व्यवसाय को सफलतापूर्वक चलाना ही होटल मैनेजमेंट कहलाता है। आज होटल मैनेजमेंट सिर्फ एक होटल तक ही सीमित नही रह गया है, बल्कि इसका दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है। अब होटल इंडस्ट्री में रिसॉट्र्स, एयरलाइंस, क्रूज, क्लब, कैफे, रेस्तरां आदि सभी आते है। अगर आप होटल मैनेजमेंट में कोई डिग्री या डिप्लोमा करते है तो आपके लिए इस फील्ड में करियर की न सिर्फ बेहतरीन संभावनाएं है, बल्कि आप कम समय में इस फील्ड में काफी अच्छी पोजिशन भी हासिल कर सकते है।

क्या है होटल मैनेजमेंट

किसी भी होटल को या होटल के व्यवसाय को सफलतापूर्वक चलाना ही होटल मैनेजमेंट कहलाता है। होटल मैनेजमेंट के अंतर्गत वे सभी काम किये जाते हैं, जो इस व्यवसाय को सफलतापूर्वक चलाने में मदद करते है। एक होटल मैनेजमेंट प्रोफेशनल को होटल में आए ग्राहकों का ख्याल रखना होता है। इसके अलावा उनको दी जाने वाली सुविधाओं जैसे होटल रूम की देख-रेख, साफ-सफाई, यात्रियों के आवागमन की सुविधा, स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजन की व्यवस्था आदि है।

कोर्स

होटल मैनेजमेंट की फील्ड में ग्रेजुएशन डिग्री, पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री और डिप्लोमा कोर्सेस उपलब्ध है। अगर आप होटल मैनेजमेंट में कोई कोर्स करना चाहते है तो 12वीं के बाद ही इसके कोर्सेस में एडमिशन ले सकते है।

ग्रेजुएट कोर्स

ऽ बैचलर ऑफ हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट
ऽ बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट (बीएचएम)
ऽ बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट इन फूड एंड विवरेज

पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स

होटल मैनेजमेंट पोस्ट ग्रेजुएट लेवल पर दो वर्षीय डिग्री और डिप्लोमा कोर्स भी करवाएं जाते है। होटल मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स के लिए कैंडिडेट को ग्रेजुएट होना जरूरी है। जानिए होटल मैनेजमेंट के पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स

ऽ मास्टर ऑफ होटल मैनेजमेंट
ऽ मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन इन हॉस्पिटिलिटी मैनेजमेंट
ऽ मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन इन होटल मैनेजमेंट

प्रमुख शिक्षण संस्थान

– इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड न्यूट्रीशन, दिल्ली
– इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइड न्यूट्रीशन, मुंबई
– इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइड न्यूट्रीशन, चेन्नई
– डिपार्टमेंट ऑफ होटल मैनेजमेंट, क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बैंगलोर -इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग टेक्नोलॉजी एंड अप्लाइज न्यूट्रीशन, लखनऊ

सैलरी

अगर आप फ्रेशर हैं तो आपको शुरूआती तौर पर होटल इंडस्ट्री में 2 से 3 लाख रूपये सालाना का पैकेज आराम से मिल जाता है। वहीं 1 से 3 साल के अनुभव के बाद 4 से 5 लाख सालाना। 5 साल से ज्यादा अनुभव के बाद 5 से 10 लाख रूपये सालाना तक कमाए जा सकते है।

यह भी पढ़ेंः-कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम का अखिलेश पर प्रहार, बोले-जेब में लाल टोपी रखने से कोई नेता नहीं बनता