गृह मंत्रालय ने हटाई बंगाल के तीन नेताओं की केन्द्रीय सुरक्षा, तृणमूल में शामिल होने की अटकलें

कोलकाता: पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद भारतीय जनता पार्टी के कई छोटे बड़े नेता पार्टी छोड़कर तृणमूल में शामिल हो चुके हैं। अब केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने सांसद सुनील मंडल, विधायक अशोक डिंडा और विधायक अरिंदम भट्टाचार्य की केंद्रीय सुरक्षा हटा ली है। इससे अन्य कई लोगों के तृणमूल में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के तृणमूल में शामिल होने के बाद अब दूसरे कई विधायकों के भी तृणमूल में जाने की अटकलें लग रही हैं। एक दिन पहले ही पश्चिम बंगाल के उद्योग मंत्री और तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने दावा किया था कि भाजपा के 10 विधायक शीघ्र ही पार्टी छोड़ देंगे। उसके बाद ही केंद्रीय गृह मंत्रालय का यह निर्देश आया है।

बता दें कि मुकुल रॉय के भाजपा छोड़ने के बाद से लगातार भाजपा नेता लगातार पार्टी छोड़कर तृणमूल में शामिल हो रहे हैं। चुनाव के पहले तृणमूल छोड़कर भाजपा में शामिल हुए सांसद सुनील मंडल भी तृणमूल में लौट आए हैं। चर्चा है कि भाजपा में चुनाव के पहले गए कई नेता वापस लौटने की फिराक में हैं।

यह भी पढ़ेंः-अंतिम पड़ाव में कहर ढहा रहा मानसून, कुल्लू और सिरमौर में फटा बादल, पांच की मौत

सूत्रों के अनुसार केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ममता बनर्जी की राज्य सरकार को पत्र लिखकर सूचित किया है कि सांसद सुनील मंडल, भाजपा विधायक अशोक डिंडा और विधायक अरिंदम भट्टाचार्य की केंद्रीय सुरक्षा वापस ली जाएगी। गृह मंत्रालय ने अपने पत्र में राज्यस्तर से तीनों को सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने की सलाह दी है। उल्लेखनीय है कि रायगंज से भाजपा विधायक कृष्ण कल्याणी के भी बागी होने की चर्चा है। वह भी पार्टी के खिलाफ लगातार मुखर हो रहे हैं। इन सभी के तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें लग रही हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)