स्वास्थ्य विभाग की सफाई, वैक्सीन से नहीं हुई है स्वास्थ्य कर्मी की मौत

55

हैदराबादः तेलंगाना राज्य के निर्मल जिले में एक स्वास्थ्यकर्मी की मौत के राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने सफाई दी है कि स्वास्थ्यकर्मी की मौत वैक्सीन से नहीं हुई है। गुरुवार को तेलंगाना के जन स्वास्थ्य विभाग के निदेशक जी श्रीनिवास राव ने एक बयान में कहा है कि प्रारंभिक जांच में पाया गया है कि स्वास्थ्यकर्मी की मौत कोरोना वैक्सीन से नहीं हुई। विभाग के दिशा निर्देश के मुताबिक डॉक्टर ने स्वास्थ्यकर्मी का पोस्टमार्टम किया है। इस मामले में डायरेक्टरेट ऑफ एडवर्स इफैक्ट्स फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन (डीएईइफई) की कमेटी जांच कर रही है, जिसकी रिपोर्ट राज्य सरकार को जल्द ही सौंप दी जाएगी।

दरअसल, निर्मल जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर 42 वर्षीय विट्ठलराव 108 एंबुलेंस का वाहन चालक के रूप में कार्यरत था। राव ने 19 जनवरी को सुबह 11:30 बजे कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाया था। उसके अगले दिन 20 जनवरी को अपरान्ह 3 बजे के आसपास राव ने सीने के दर्द की शिकायत की। उसके परिजन उसे लेकर अस्पताल में लेकर गए लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

यह भी पढ़ेंः-दिलीप घोष ने बंगाल पुलिस पर लगाया पक्षपात का आरोप, बोले ये बात

इसके बाद जिले के विशेषज्ञ और डॉक्टरों की एक टीम ने शव का पोस्टमार्टम किया। जिसकी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंप दी गई है। मौत के कारण का आधिकारिक रूप से खुलासा अभी तक नहीं हुआ है। राज्य सरकार ने स्वास्थ्यकर्मी की मौत की सूचना केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को भेज दी है। राज्य स्वास्थ्य मंत्री ईठला राजेंद्र ने जिला प्रशासन को पूरी जानकारी केंद्र को सौंपने को कहा है।