Good News: ‘कोविशील्ड’ और ‘कोवैक्सीन’ के इस्तेमाल पर DCGI की मुहर

69

नई दिल्लीः कोरोना से संकट बीच आज ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया यानी कि डीसीजीआई ने कोविशील्ड के बाद अब कोवैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। बता दें कि 1 जनवरी को ही सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड को डीसीजीआई ने मंजूरी दे दी थी। जिसके बाद से उम्मीद जताई जा रही थी कि भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन को आपातकाल इस्तेमाल की मंजूरी भी जल्द मिल सकती है। आज की मीटिंग में कोवैक्सीन को भी डीसीजीआई द्वारा आपात इस्तेमाल की अनुमति मिल गई है। अब ये दोनों वैक्सीन देश के आम लोगों को लगाई जा सकेंगी।

डीसीजीआई के निदेशक वीजी सोमानी के मुताबिक, दोनों ही वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित हैं और इसका इस्तेमाल इमरजेंसी की स्थिति में किया जा सकेगा। दोनों ही वैक्सीन की दो दो डोज इंजेक्शन के रूप में दी जाएगी।

जारी रहेगा क्लिनिकल ट्रायल

डीसीजीआई के निदेशक वीजी सोमानी ने बताया कि केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) की सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (SEC) ने 1 और 2 जनवरी को कोविशील्ड और कोवैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की सिफारिश की थी। इस SEC में इस क्षेत्र के विशेषज्ञ शामिल थे। इनमें से पल्मोनोलॉजी, इम्यूनोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, फार्माकोलॉजी, पीडियाट्रिक्स, इंटरनल मेडिसिन के डॉक्टर और वैज्ञानिक थे।

यह भी पढ़ेंः-कोरोना के बीच नया खतरा, राजस्थान के बाद अब इस दो राज्यों में तेजी से मर रहे पक्षी, लोगों में खौफ

डीसीजीआई के मुताबिक सीरम इंस्टीट्यूट के वैक्सीन की ओवरऑल क्षमता 70.42% थी। सीरम के आंकड़े दूसरे देशों में किए गए अध्ययन से मेल खाते हैं। डीसीजीआई ने कहा कि सीरम द्वारा इस वैक्सीन पर देश में क्लिनिकल ट्रायल जारी रहेगा।