MP: खंडवा में अवैध गैस सिलेंडर गोदाम में लगी भीषण आग, 20 से ज्यादा सिलेंडर बम की तरफ फटे

15

खंडवाः मध्य प्रदेश (MP) के खंडवा जिले के घासपुर वार्ड नंबर 14 के पास रिहायशी इलाके में संचालित अवैध गैस गोदाम में बुधवार रात अचानक आग लग गई। यहां एक के बाद एक 26 से ज्यादा गैस सिलेंडर फटने से पूरा इलाका दहल गया। सूचना मिलने के बाद फायर ब्रिगेड और पुलिस-प्रशासन का अमला मौके पर पहुंचा और 20 से ज्यादा फायर ब्रिगेड की मदद से देर रात आग पर काबू पाया गया। फिलहाल प्रशासन ने अवैध गोदाम पर बुलडोजर चलाना शुरू कर दिया है। इस अग्निकांड में 7 लोग झुलस गए हैं, जिनमें से दो को गंभीर हालत में इंदौर रेफर किया गया है।

एक के बाद एक करीब 26 सिलेंडर फटे

जानकारी के मुताबिक, शहर के घासपुरा इलाके में उर्दू स्कूल के पास स्थित राजेश उर्फ राजा पवार मराठा के घर में 100 से ज्यादा टैंक रखे हुए थे। यहां बुधवार रात करीब साढ़े आठ बजे आग लगने से अफरा-तफरी मच गई। यह हादसा गैस सिलेंडर फटने से हुआ। इसके बाद वहां मौजूद सिलेंडरों में धमाके होने लगे और एक के बाद एक करीब 26 सिलेंडर फट गए। दरअसल, घर में अवैध रूप से रखे गैस टैंक के कारण आग बेकाबू हो गई थी।

ये भी पढ़ें..Guna Bus Accident: डंपर से टकराई बस में लगी भीषण आग, 13 यात्री जिंदा जले

बताया जा रहा है कि घर में अवैध रूप से रखे गैस टैंक के कारण आग बेकाबू हो गई। नगर निगम और पुलिस की टीम ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर करीब तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। गैस टैंकों में लगातार हो रहे विस्फोट से आसपास के घरों के भी आग की चपेट में आने की आशंका के चलते इलाके को खाली कराया गया। आग बुझाने के लिए जिले की अन्य नगर परिषदों से भी अग्निशमन वाहन बुलाए गए। करीब 20 फायरफाइटर्स की मदद से आग पर काबू पाया गया।

आटा चक्की की आड़ में चल रहा था अवैध गैस गोदाम

इसके बाद जिला प्रशासन और नगर निगम अमले ने बुलडोजर चलाकर अवैध गोदाम को जमींदोज कर दिया। इस हादसे में घर में रहने वाले दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद इंदौर रेफर किया गया है। इसके अलावा आसपास के पांच अन्य लोग भी झुलस गए हैं, जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बताया जा रहा है कि यहां आटा चक्की चलती थी, जिसकी आड़ में अवैध गैस गोदाम बनाया गया था। यह घर एक गैस वेंडर का बताया जा रहा है, जो गैस टैंक सप्लाई करता था और उसके घर में 100 से ज्यादा सिलेंडर का स्टॉक था। इस मकान के बारे में लोगों ने कई बार शिकायत की, लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। बुधवार रात अचानक गैस सिलेंडर में आग लग गई, जिससे यह हादसा हुआ।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)