बर्थडे स्पेशलः लंबे संघर्ष के बाद फराह खान ने बनाया बॉलीवुड में मुकाम

51

नई दिल्लीः बॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर और अभिनेत्री फराह खान आज अपना 56वां बर्थडे मना रही हैं। फराह खान ने अपनी मेहनत के बल पर बॉलीवुड में अपना एक मुकाम बनाया है। लेकिन इस मुकाम को पाने के लिए उन्होंने काफी संघर्ष भी किया है। फराह खान अब तक 100 से अधिक गानों को कोरियोग्राफ कर चुकी हैं।

फराह का जन्म 9 जनवरी 1965 को मुंबई मे हुआ था, उनके पिता कमरान फिल्मों में बतौर डायरेक्टर व अभिनेता काम करते थे और उनके पिता ने अपनी एक फिल्म ‘ऐसा भी होता है’ बनाई जो फ्लॉप हो गई। जिसके बाद उनका पूरा परिवार कर्ज में डूब गया। कुछ समय बाद उनके पिता का भी निधन हो गया। पिता की मृत्यु के बाद फराह ने घर की जिम्मेदारी को संभाला और फिल्मों में बतौर बैकग्राउंड डांसर काम किया। साथ ही बीच-बीच में स्टार्स को डांस के नए स्टेप भी सिखाती रहीं। वर्ष 1993 में उनकी जिंदगी में एक टर्निंग प्वाइंट आया जब फिल्म जो जीता वही सिकंदर को कोरियोग्राफर सरोज खान ने छोड़ दिया था।

जिसके बाद उन्होंने फिल्म के गाने ‘पहला नशा’ गाने को कोरियोग्राफर किया, जो काफी हिट हुआ था। इसके बाद फराह को एक पहचान मिल गयी। इसके बाद उन्होंने शाहरुख खान की फिल्म ‘कभी हां कभी ना’ के गानों को कोरियाग्राफर किया। इस दौरान उनकी शाहरुख खान से दोस्ती हो गई। साल 2004 में फराह ने अपनी पहली फिल्म बनाई जिसमें शाहरुख खान ने लीड रोल प्ले किया है। फिल्म के सेट पर फराह की शिरीष से मुलाकात हुई। और शिरीष ने फराह को प्रपोज कर दिया, उस वक्त फराह 32 साल की और शिरीष 25 साल के थे। फराह अपने भाई साजिद खान की इजाजत के बगैर शादी नही करना चाहती थी।

यह भी पढ़ेंः-अनुष्का ने सोशल मीडिया पर शेयर की तस्वीर, फैंस कर रहे तारीफें

उनके भाई की हामी के बाद उन्होंने साल 2004 में शादी कर ली। जिसके बाद शिरीष और फराह ने मिलकर ओम शांति ओम, हैप्पी न्यू ईयर, जैसी बड़ी फिल्मों को डायरेक्ट किया है। फराह ने तीन बच्चों की मां भी हैं। फराह खान को मॉनसून वेडिंग, बॉम्बे ड्रीम्स, वैनिटी फेयर में अपने काम के लिए 5 बार फिल्मफेयर का बेस्ट कोरियोग्राफी अवॉर्ड मिल चुका है।