दशहरा 2020: इन तस्वीरों में देखें कोरोना काल में कैसे किया गया रावण दहन

 

लखनऊ:  दशहरा हिंदुओं के सबसे खास त्योहारों में से एक माना जाता है। इसे विजयादशमी भी कहा जाता है, जो पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ मनाई जाती है। हिंदू धर्म के विक्रम सम्वत कैलेंडर में दशहरा का त्योहार आश्विन माह की दशमी को आता है। इस साल दशहरा रविवार यानी 25 अक्टूबर को मनाया गया। कई जगहों पर 26 अक्टूबर को भी मनाया जाएगा। कोरोना वायरस के कारण दशहरे के त्योहार पर इस साल पहले जैसी रौनक नजर नहीं आई। उत्तर भारत में बहुत ही कम जगहों पर रावण के पुतले का दहन हुआ। कई जगहों पर लोगों के उत्साह में कमी दिखी, लेकिन कुछ लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियम तोड़ने से जरा भी नहीं चूके।  तस्वीरों में देखिए इस साल किस तरह किया गया रावण दहन..

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में दशहरा के अवसर पर राजा रावण के पुतले को इस तरह दहन किया गया।

रविवार को पंजाब के लुधियाना में दशहरा उत्सव के अवसर पर दरेसी दशहरा ग्राउंड में रावण का 30 फीट लंबा पुतला जलाया गया।

रविवार को नई दिल्ली में दशहरा के अवसर पर रावण के साथ मेघनाद और कुंभकर्ण के पुतले भी जलाए गए।

इस दिन श्री राम ने लंका के रावण का वध किया था, जिसके दस सिर थे, इसलिए इस दिन को दशहरा कहा जाता है।

यह बुराई पर अच्छाई की जीत का त्योहार है। रावण पर श्रीराम की जीत के रूप में यह त्योहार मनाया जाता है और रामलीला की अहमियत भी इस दिन सबसे खास होती है। दशहरा त्योहार के साथ ही दीवाली की तैयारियां भी शुरू हो जाती है।

loading...