पुलिस महानिदेशक बोले- धर्म के आधार पर पुलिस की आलोचना ठीक नहीं

49

अमरावतीः आंध्र प्रदेश के पुलिस महानिदेशक गौतम सवांग ने राजनेताओं के द्वारा धर्म के आधार पर पुलिस की आलोचना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि पुलिस के खिलाफ इससे पहले कभी इस तरह की धर्म के आधार पर टिप्पणियां नहीं की गई। उन्होंने कहा कि राजनीतिक उद्देश्य के लिए पुलिस को निशाना बनाया जा रहा है।

गुरुवार को यहां पुलिस महानिदेशक सवांग ने कहा कि मंदिरों पर हुए हमलों के लिए राजनीतिक लोग जनता को गुमराह कर रहे हैं। प्रदेश में कानून और शांति व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस हरसंभव प्रयास कर रही है और पुलिस का किसी जाति या समुदाय से कोई मतभेद नहीं है। पुलिस के लिए लोगों की सुरक्षा प्राथमिक है, लेकिन कुछ राजनीतिक और असामाजिक तत्वों सोशल मीडिया पर पुलिस के बारे में गलत प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग राजनीतिक लाभ के लिए जानबूझकर पुलिस पर गलत आरोप लगा रहे हैं।

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि रामतीरथ के मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के लिए तीन महीने पहले ही कहा गया था। मुख्य मंदिर के अतिरिक्त 16 सीसी कैमरा लगाए जाए लेकिन पहाड़ी के मंदिर में बिजली आपूर्ति की सुविधा न होने के कारण वहां के सीसीटीवी नहीं लगाया गया।

यह भी पढ़ेंः-कंपनी के जब्त 5 करोड़ न लौटाने पर हाई कोर्ट ने आयकर विभाग को लगाई फटकार

अब कई अन्य मंदिर में भी सीसीटीवी कैमरा लगाने पर विचार किया जा रहा है। इससे असामाजिक तत्वों पर नजर रखी जा सकेगी। उन्होंने बताया कि मंदिर पर हमलों के मामले में पुलिस ने 5 सितम्बर से अब तक 180 मामले दर्ज किए हैं और 348 आरोपितों को गिरफ्तार किया है।