पश्चिम बंगाल ट्रेन हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर 9 हुई, 67 से अधिक घायल

कोलकाताः पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले के डोमोहानी इलाके में गुरुवार दोपहर गुवाहाटी-बीकानेर एक्सप्रेस के 12 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर 9 हो गई है, जबकि 67 लोग घायल बताए जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, ट्रेन में लगभग 1,200 यात्री सवार थे। दुर्घटना के समय कोविड की स्थिति पर मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की अध्यक्षता कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से हादसे की जानकारी ली।

ये भी पढ़ें..IND vs SA: केपटाउन में भी बने जोहानिसबर्ग जैसे हालात, तो सीरीज जीत लेगा दक्षिण अफ्रीका !

शुरुआती खबरों के मुताबिक, राजस्थान के बीकानेर से चली गुवाहाटी-बीकानेर एक्सप्रेस 15633 (यूपी) गुरुवार शाम करीब 5.15 बजे जलपाईगुड़ी जिले के मयनागुड़ी के पास पटरी से उतर गई। यह ट्रेन पटना होते हुए असम के गुवाहाटी जा रही थी। मयनागुड़ी ट्रेन के 34 स्टॉपेज की सूची में नहीं थी और हादसे के समय ट्रेन बीकानेर एक्सप्रेस जलपाईगुड़ी जिले से गुजर रही थी।

12 डिब्बे पटरी से उतरे

भारतीय रेलवे ने कहा कि 12 डिब्बे प्रभावित हुए हैं। डीआरएम और एडीआरएम दुर्घटना राहत ट्रेन और मेडिकल वैन के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। रेलवे अधिकारियों के अनुसार, 12 में से 4 कोच पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं और एनडीआरएफ और बीएसएफ सहित बचाव दल गैस कटर से कोचों को काटने की कोशिश कर रहे हैं। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “अगर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कोचों के अंदर लोग दबे होंगे, तो मौतों की संख्या बढ़ जाएगी। एक कोच के पानी में गिरने की सूचना है। हम कोच की स्थिति का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। अंधेरा हो गया है, इसलिए बचाव संचालन में देरी हो रही है।”

ममता बनर्जी ने कहा, “मयनागुड़ी में बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस की दुखद दुर्घटना के बारे में सुनकर गहरा चिंतित हूं। राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी, डीएम/एसपी/आईजी उत्तर बंगाल बचाव और राहत कार्यों की निगरानी कर रहे हैं। घायलों को जल्द से जल्द चिकित्सा सहायता मिलेगी।” वहीं केंद्रीय रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने ट्वीट किया, दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में, बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस के 12 डिब्बे आज शाम न्यू मयनागुड़ी (पश्चिम बंगाल) के पास पटरी से उतर गए।

5-5 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान

व्यक्तिगत रूप से त्वरित बचाव अभियान के लिए स्थिति की निगरानी कर रहे हैं। वैष्णव ने भी प्रधानमंत्री को पूरी स्थिति से अवगत कराया। इस बीच, रेलवे अधिकारियों ने मृतकों के लिए 5 लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों के लिए 1 लाख रुपये और घायलों के लिए 25,000 रुपये के मुआवजे की घोषणा की है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)