सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर केंद्रीय मंत्रियों के नाम से जारी हुए कोरोना सर्टिफिकेट

54

लखनऊः उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में किसी ने एक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की बेवसाइट हैक कर नितिन गडकरी, अमित शाह, ओम बिरला और पीयूष गोयल के नाम से कोरोना सर्टिफिकेट जारी कर दिए हैं। यह वाकया इटावा की ताकहा तहसील के सारसेनावार गांव के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में सामने आया है और ये नाम भी केन्द्रीय मंत्रियों तथा लोकसभा अध्यक्ष के नाम पर रखे गए हैं।

इटावा जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी भगवान दास ने बताया कि किसी ने हमारी आधिकारिक वेबसाइट हैक कर ली और यह काम जिले में कोराना टीकाकरण अभियान को बदनाम करने के लिए किया गया है। ये सभी सर्टिफिकेट ऑनलाइन जारी किए गए हैं और मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। यह एक षड़यंत्र का हिस्सा है। इस घटना को गंभीरता से लेते हुए जिला प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दे दिए है और तीन सदस्यीय एक टीम गांव में जांच के लिए गई है।

यह भी पढ़ें-देश में बीते 24 घंटे में कोरोना से 264 लोगों की हुई मौत, 7,081 नये मामले मिले

ये सभी प्रमाणपत्र उन लोगों के नाम पर जारी किए गए है जिन्हें 12 दिसंबर को कोराना का पहला टीका लगाया गया था। इन पर कोरोना के दूसरी डोज की तारीख पांच मई 2022 और तीन अप्रैल 2022 दी गई है। इटावा जिले में 236 स्थानों पर कोरोना वैक्सीनेशन केन्द्र बनाए गए हैं और ये सभी सरकार की तरफ से संचालित हैं। इस जिले में अब तक 16 लाख कोरोना डोज दिए जा चुके हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)