सीएम योगी ने कायम की मिसाल, 156 दिनों में 100 से ज्यादा जिलों का किया दौरा

लखनऊः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक और उपलब्धि अपने नाम किया है। मुख्यमंत्री योगी पिछले पांच माह में यानी पिछले साल अगस्त माह से लेकर तीन जनवरी तक 156 दिनों में सौ से ज्यादा बार जिलों का दौरा कर चुके हैं। उन्होंने हर दौरे में शासन के योजनाओं की धरातल पर हकीकत परखी। साथ ही, कोरोना प्रबंधन, बाढ़ राहत और विकास कार्य सहित लाखों करोड़ों की परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री योगी ने पिछले पांच माह में औसतन हर माह 20 जिले का दौरा किया है और विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल हुए हैं। यह स्थिति तब है, जब वह लखनऊ में रोजाना सुबह उच्चाधिकारियों के साथ बैठक के अलावा अन्य शासकीय कार्यों और बैठकों आदि में व्यस्त रहते हैं। दिसंबर माह में ही वह 23 से अधिक जिलों में पहुंचे हैं, जहां उन्होंने योजनाओं का लोकार्पण या शिलान्यास किया है। ऐसे ही नवंबर में उन्होंने 17 अक्तूबर में 13, सितंबर में 32 और अगस्त में 15 जिलों का दौरा किया है।

इस साल जनवरी में मुख्यमंत्री योगी पहली जनवरी को रामपुर, दो जनवरी को मेरठ और तीन जनवरी को लखनऊ, अमेठी और लखनऊ का दौरा किया है। प्रदेश में विधानसभा चुनावों को लेकर पिछले करीब छह महीने से सियासी गर्मी है। दूसरे राज्यों के भी विभिन्न दलों के नेता अपने एजेंडे लेकर चुनावी मैदान में उतर चुके हैं, लेकिन उनकी राजनीति ट्विटर और मीडिया में बयानों तक ही सीमित है। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने पौने पांच साल में कुछ जिलों को छोड़ दें तो करीब हर जिले का तीन से चार बार दौरा किया है। 2017 के पहले तत्कालीन मुख्यमंत्री विशेष मौकों पर ही जिलों के दौरों पर निकलते थे। इसमें भी गौतमबुद्धनगर और अयोध्या सहित कुछ जिले ऐसे थे, जिनमें तत्कालीन मुख्यमंत्री जाने से कतराते थे।

यह भी पढ़ें-कोलकाता से दुबई जा रही फ्लाइट में 5 लोग निकले कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

मुख्यमंत्री योगी ने पिछले साल अगस्त माह में बाढ़ प्रभावित औरैया, इटावा, वाराणसी, गाजीपुर, बलिया और सितंबर माह में बहराइच, गोंडा, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर और महराजगंज सहित कई जिलों का भ्रमण किया था। बाढ़ पीड़ितों को राहत देने के लिए वह खुद धरातल पर उतरे और लोगों को राहत सामग्री वितरित की। इससे पहले सीएम योगी ने फिरोजाबाद का भी दौरा कर बुखार पीड़ितों से मुलाकात की थी और उन्हें भरोसा दिया कि हर परिस्थिति में सरकार आपके साथ है। योगी ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान पिछले साल मई में 26 दिनों में 18 मंडलों और 40 जिलों का दौरा किया था। इस दौरान वह लोगों के सुख-दुख में शामिल हुए और शहरों से लेकर गांवों तक का दौरा किया। साथ ही उन्होंने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और इंटीग्रेटेड कोविड कंट्रोल कमांड सेंटर आदि का भी निरीक्षण किया था।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)