सीएम योगी बोले-यूपी के एक करोड़ युवाओं को मिलेगा लैपटॉप-स्मार्टफोन

गोरखपुरः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि युवाओं को तकनीक से जोड़ने के लिए उन्हें लैपटॉप और स्मार्टफोन का वितरण किया जा रहा है। प्रदेश में एक करोड़ से अधिक युवाओं को ये उपकरण दिये जाएंगे। बहुत से युवा भी हैं, जिनके स्वजन के पास इसके संचालन का खर्च उठाने की क्षमता नहीं है, इसे देखते हुए प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि लैपटॉप एवं स्मार्टफोन के साथ डिजिटल एक्सेस दिया जाएगा यानी इसके संचालन पर जो खर्च आएगा उसे सरकार वहन करेगी।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ भरोहिया ब्लाक परिसर में ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा के अनावरण और गुरु गोरखनाथ विद्यापीठ में आयोजित कार्यक्रम में करीब 68 करोड़ रुपये लागत की 20 परियोजनाओं को लोकार्पण एवं शिलान्यास करने के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर में तीसरी बार लैपटॉप एवं स्मार्ट फोन का वितरण किया जा रहा है। प्रदेश के हर जिले में इसका वितरण हो रहा है। इसके बाद कालेज एवं संस्थानों में वितरण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि लैपटॉप एवं स्मार्ट फोन के साथ विद्यार्थियों के पाठ्यक्रम के अनुसार अच्छी पाठ्य-सामग्री भी उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए दुनिया की बड़ी कंपनियों के साथ अनुबंध किया जा रहा है। पढ़ाई पूरी करने के बाद युवा रोजगार की ओर से अग्रसर हो सकें, इसके लिए केंद्र एवं प्रदेश सरकार की रोजगार से जुड़ी योजनाओं का लिंक भी इन उपकरणों में दिया जा रहा है। एक क्लिक पर किसी भी योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त की जा सकेगी और युवा अपना विकल्प चुन सकेंगे।

यह भी पढ़ें-बुली बाई ऐप मामलाः 7 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया मुख्य साजिशकर्ता नीरज बिश्नोई

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी तरह की प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अभ्युदय के नाम से फ्री कोचिंग चल रहा है। इसके तहत 10 हजार युवाओं को टैबलेट एवं स्मार्ट फोन दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना का प्रकोप फिर बढ़ रहा है। कक्षाएं आनलाइन चलेंगी और परीक्षाएं भी आनलाइन हो सकती हैं। इसके लिए ये उपकरण काफी उपयुक्त होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब प्रदेश का युवा स्वयं को स्मार्ट युवा कह सकता है। कोरोना काल में बचाव बहुत जरूरी है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नए भारत का नया उत्तर प्रदेश तेजी से आगे बढ़ रहा है। पिछले पौने पांच साल में 4.5 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी उपलब्ध कराई गई है। 1.61 करोड़ लोगों को अन्य क्षेत्रों में नौकरी दी व रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए। उन्होंने कहा कि सफलता के लिए कोई शार्टकट नहीं होता, मेहनत करिए। उन्होंने कहा कि ज्ञान की कोई सीमा नहीं होती इसलिए जितना ज्ञान अर्जित कर सकते हैं अर्जित करिए और स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के माध्यम से आगे बढ़िए।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)