पंजाब के सरकारी स्कूलों की बदलेगी तस्वीर, दिल्ली मॉडल होगा लागूः सीएम मान



free electricity

लुधियाना: स्कूली शिक्षा प्रणाली में सुधार लाने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (CM Bhagwant Mann) ने मंगलवार को लुधियाना में सरकारी स्कूलों के प्रिसिंपल के साथ बैठक की। सभी से इस संबंध में सुझाव मांगे। मुख्यमंत्री भगवंत मान (CM Bhagwant Mann) ने कहा जल्द ही पंजाब में शिक्षा का दिल्ली मॉडल लागू किया जाएगा। सरकारी शिक्षा प्रणाली पर लोगों का भरोसा कायम करना समय की जरूरत है। यह सभी के सहयोग संभव होगा।

ये भी पढ़ें..11 अधिकारियों पर कलेक्टर ने लगाया जुर्माना, जानिए क्यों लिया ये…

उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के आत्मविश्वास को बढ़ाने की भी जरूरत है, जिससे उनको नौकरी ढूंढने वालों से नौकरी प्रदान करने वाला बनाया जा सके। मान ने कहा कि आप सरकार राज्य में उद्योगों को वापस लाकर हुनर के पलायन को रोकने के लिए वचनबद्ध है। पंजाब के अध्यापकों को दिल्ली के स्कूलों के अलावा सिंगापुर, स्विटजरलैंड, फिनलैंड, हार्वर्ड और आक्सफोर्ड जैसी संस्थाओं में प्रशिक्षण के लिए सरकारी खर्च पर भेजा जाएगा।

भगवंत मान ने कहा कि प्रवासी भारतीय सरकारी स्कूलों को अपनाने के लिए तैयार हैं परन्तु उनके पैसे का प्रयोग विद्यार्थियों को आधुनिक शिक्षा प्रदान करने में करना होगा। मुख्यमंत्री ने सर्वोत्तम सरकारी स्कूलों के 10 अध्यापकों और प्रिंसिपल के लिए सालाना नकद इनाम का ऐलान भी किया। मुख्यमंत्री ने अध्यापकों के विचार और सुझाव जानने के लिए ऑनलाइन पोर्टल लांच किया। उन्होंने कहा सरकारी स्कूलों में पीटीएम भी शुरू होनी चाहिए। शिक्षा मंत्री मीत हेयर ने भरोसा दिलाया कि सभी अध्यापकों के विचारों और सुझावों का स्वागत किया जाएगा। पंजाब को शिक्षा के क्षेत्र में नंबर एक बनाने के लिए सार्थक विचारों को सभी स्कूलों में लागू किया जाएगा।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक औरट्विटरपर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)