चंबा में टूरिज्म बढ़ाने की कवायद, हेरिटेज टाउन के तौर पर होगा विकास

चंबा: केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों को लुभाने के लिए चंबा को एक हेरिटेज (heritage) टाउन (विरासत को संजोकर रखने वाला शहर) के तौर पर विकसित करने का प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि चंबा में हेरिटेज भवनों की पहचान कर हेरिटेज (heritage) वॉक की शुरूआत की जा सकती है, ताकि अधिक से अधिक पर्यटक इस खूबसूरत जगह की यात्रा कर सकें।

ये भी पढ़ें..ग्रामीण जनजातीय युवाओं को मिलेगा तकनीकी प्रशिक्षण, रोजगार के खुलेंगे रास्ते

मंत्री ने यहां अधिक पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए चंबा की कला, शिल्प और संस्कृति को विश्व स्तर पर ले जाने का वादा किया। चंबा के चौगान में राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन और युवा प्रोत्साहन पर एक कार्यक्रम में बोलते हुए, उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ने पहले ही इसे एक महत्वाकांक्षी जिले के रूप में घोषित कर दिया है और आने वाले वर्षों में यह देश के विकसित जिलों में बहुत आगे होगा।

उन्होंने 500 करोड़ रुपये की लागत से निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज और पेयजल सुविधा, सड़क संपर्क आदि सहित कई विकास परियोजनाओं को सूचीबद्ध किया। उन्होंने कोरोना महामारी के दौरान स्टार्टअप शुरू करने और आपदा को अवसर में बदलने के लिए देश के युवाओं की प्रशंसा भी की। उन्होंने कहा कि 100 से ज्यादा ऐसे स्टार्टअप अब यूनिकॉर्न कंपनी बन गए हैं। उन्होंने कहा कि इसी युवा शक्ति से प्रधानमंत्री एक नया भारत बनाना चाहते हैं।

केंद्रीय मंत्री ने चंबा के सभी पांच विधानसभा क्षेत्रों में पांच इनडोर स्टेडियमों के अलावा प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में 10 मल्टी-व्यायामशालाओं के निर्माण की घोषणा की, ताकि युवा खुद को एक अच्छा खिलाड़ी बनने के लिए प्रशिक्षित कर सकें। इस दौरान उन्होंने बच्चों और युवाओं के बीच स्पोर्ट्स किट भी बांटी। ठाकुर ने कार्यक्रम स्थल पर स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) द्वारा स्थापित स्टालों का दौरा किया और जिला प्रशासन को होटलों में विशेष काउंटर विकसित करने के लिए कहा, जहां ये समूह अपने उत्पादों को पर्यटकों और अन्य लोगों के लिए आसान उपलब्धता के लिए रख सकेंगे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)