संपादकीय

संपादकीय

अंतरिक्ष की दुनिया में भारत का परचम

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) एक के बाद एक नया इतिहास रच रहा है। बीते कुछ वर्षों...

राजस्थान कांग्रेस में घमासान, अब गले मिलना नहीं आसान

राजस्थान कांग्रेस में मचा घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा। पिछली 25 सितंबर को जयपुर...

हर नागरिक को समान अधिकार देता है हमारा संविधान

वैसे तो विश्व का सबसे बड़ा लिखित संविधान भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू किया...
RBI

आरबीआई की चिंता को समझें नगरीय निकाय

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने पहली बार 27 राज्यों के सभी नगरीय निकायों की माली हालात पर...

केरल हाई कोर्ट का निर्णय : मुस्लिम पर्सनल लॉ के बीच पॉक्सो एक्ट

केरल हाई कोर्ट के निर्णय ने एक बार फिर यह विचार करने पर विवश किया है कि...

काशी में उत्तर और दक्षिण का संगम

भूतभावन भगवान विश्वेश्वर शिव की नगरी काशी विश्व की सांस्कृतिक राजधानी है। संदेशों की खेती के लिए...

दुनिया का सपना-बच्चों का दर्द हो अपना

बाल दिवस केवल भारत में ही नहीं बल्कि विश्व के अधिकांश देशों में मनाया जाता है। भारत...

भारतीय चिंतन में समूचा संसार परिवार

विश्व मानवता तनावग्रस्त है। रूस-यूक्रेन युद्ध का प्रभाव विश्वव्यापी है। तनाव का उपचार...

यह पल रानी लक्ष्मीबाई से प्रेरणा लेने का है

भारत भूमि पर अंग्रेजों से लोहा लेने के लिए अनेक वीर अग्रणी भूमिका में रहे हैं। लेकिन...

जनजातीय समुदाय का सम्मान

केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने जनजातीय समुदाय के सम्मान का नया अध्याय लिखा है। देश में...

बढ़ती आबादी के खतरे भी कम नहीं

यूनाइटेड नेशंस पॉपुलेशन फंड (यूएनएफपीए) के मुताबिक दुनिया की आबादी आठ अरब हो गई है, जिसे सात...

कभी नहीं भूल सकता लाला लाजपत राय का बलिदान

किसी भी व्यक्ति के कार्यों का समापन भी उसके संसार से विदा लेने के साथ ही हो...

वीरांगना ऊदा देवी, जिनका सम्मान शत्रु को भी करना पड़ा

स्वतंत्रता की लड़ाई में समाज के सभी वर्ग और जाति के लोगों ने भाग लिया था लेकिन...

जनजाति समाज के लिए चलाई जा रही आर्थिक विकास की योजनाएं

जनजाति समाज बहुत ही कठिन परिस्थितियों का सामना करते हुए देश में दूरदराज इलाकों के सघन जंगलों...

जल सप्ताह नहीं, सालभर ‘जल वर्ष’ मनाने की दरकार

पिछले सप्ताह देश में जल सप्ताह का आयोजन किया गया, जिसमें जल संरक्षण, जल के उपयोग एवं...

प्रदूषण से माता पृथ्वी की रक्षा हम सबका राष्ट्रधर्म

पृथ्वी का अस्तित्व संकट में है। पर्यावरण विश्व बेचैनी है। भारत में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वायु...

पं. मदन मोहन मालवीय: हिन्दी पत्रकारिता के उन्नायक

हिन्दी पत्रकारिता के पितृ पुरुष, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के प्रणेता, विद्यार्थियों के मध्य लोकप्रिय शिक्षक, उच्चकोटि के...

अल्पसंख्यकवाद से मुक्ति पर विचार हो

भारत विशाल देश है। यहां विभिन्न समुदाय के लोग निवास करते हैं। उनकी भिन्न-भिन्न संस्कृतियां हैं, परन्तु...

‘जल’वायु की आग, भारत और धुआं-धुआं दुनिया

इस समय मिस्र के शर्म-अल-शेख में संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन में दुनिया जलवायु परिवर्तन के खतरों...

समतामूलक समाज के उन्नायक गुरुनानक देव

सिख धर्म के संस्थापक आदि गुरु नानकदेव जी मानवीय कल्याण के प्रबल पक्षधर थे। उन्होंने समकालीन सामाजिक,...

अभी - अभी

मनोरंजन

राशिफल / अध्यात्म