सेहत के लिए बहुत लाभकारी है ‘गाजर’, जानें इसके 5 सबसे बड़े फायदे

81

लखनऊः सर्दियों का सुपरफूड कही जाने वाली गाजर हमारे लिए बहुत फायदेमंद है। कच्ची गाजर खाना या गाजर का जूस बना कर पीना सेहत के लिए कई कारणों से फायदेमंद है। गाजर का जूस पीने के अनेक फायदे हैं। गाजर में कई ऐसे एंटीऑक्सीडेंट्स और तत्व पाए जाते हैं जो संपूर्ण स्वास्थ्य को हेल्दी रखने में मदद कर सकते हैं। विटामिन ई की काफी अच्छी मात्रा होने से आंखों की रोशनी के लिए गाजर बेहतरीन साबित हो सकता है। यह सबसे स्वादिष्ट और फायदेमंद जड़ वाली सब्जियों में से एक है और यह लगभग सभी मौसमों में उपलब्ध होता है।

इम्यूनिटी के लिए गाजर का जूस अद्भुत माना जाता है। गाजर के पोषक तत्वों की बात करें तो इसमें कैलोरी, प्रोटीन, वसा, कार्ब्स, फाइबर, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के पोटेशियम काफी मात्रा में पाए जाते है। त्वचा के लिए गाजर के फायदे किसी से छुपे नहीं है। रोजाना एक गिलास गाजर का जूस न सिर्फ सर्दियों में स्किन पर ग्लो ला सकता है बल्कि कई स्किन प्रोब्लम्स को भी दूर रख सकता है।

फायदेः-

1. गाजर में कैरोटीनॉयड मौजूद होता है जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है और मुक्त कणों से लड़ता है। गाजर का रस पीने से उम्र बढ़ने की गति को धीमा किया जा सकता है साथ ही गाजर आपके शरीर से विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद कर सकता है।

2. गाजर का रस कैरोटीनॉयड का एक बहुत अच्छा जरिया है, जिसमे हमें बीटा कैरोटीन, ल्यूटिन और ज़ेक्सैन्थिन मिलते है जो की जो आंखों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। गाजर आपकी आंखों के लिए अच्छा होता है और विटामिन ए से भी भरपूर होता है। विटामिन ए की कमी होने के कारण आपकी आंखों की रोशनी कमजोर हो सकती है। ऐसे में आंखों की रोशनी को बढ़ावा देने के लिए रोजाना गाजर का जूस का सेवन करें।

3. गाजर का रस हृदय रोग को कम करने में मदद करता है । गाजर के रस से हमें पोटेशियम मिलता है, एक खनिज जो उचित रक्तचाप विनियमन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

4. हमें उच्च रक्तचाप और स्ट्रोक से बचाने के लिए गाजर का सेवन काफी लाभकारी माना जाता है।

यह भी पढ़ेंः-कोरोना वैक्सीन पर पॉजिटिव खबरों से गुलजार हुआ बाजार, सेंसेक्स 48 हजार के पार

5. गाजर के रस में कैरोटीनॉइड होते हैं जो लीवर के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए जाने जाते हैं। कई अध्ययनों से संकेत मिलता है कि कैरोटेनॉइड के एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव गैर-अल्कोहल फैटी लीवर रोग से बचाने में भी मदद कर सकता है। इसके लिए रोजाना एक गिलास गाजर का जूस पिया जा सकता है।