कंबोडिया के प्रधानमंत्री ने कोरोना वैक्सीन को लेकर भारत से मांगी मदद

187

नई दिल्लीः कंबोडिया के प्रधानमंत्री हन सेन ने सोमवार को कोरोना वैक्सीन को लेकर भारत से मदद मांगी है। कंबोडिया में भारत की राजदूत देवयानी उत्तमखोबरागडे से मुलाकात के दौरान उन्होंने मदद मांगी है।

दरअसल, भारत ने अपनी दो कोरोना वैक्सीन कोवीशील्ड और कोवावैक्सीन विकसित की हैं, जो बीते शनिवार से भारत के हर मेडिकल पर उपलब्ध हो गई हैं। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भारत में टीकाकारण अभियान की शुरुआत की। भारत का टीकाकरण अभियान पूरे विश्व में सबसे बड़ा है। इस अभियान के तहत 30 मिलियन भारतीयों को टीका लगाया जाएगा।

नोम पेन्ह पोस्ट के अनुसार कंबोडिया ने भारत को सफलतापूर्वक कोरोना वैक्सीन विकसित करने के लिए बधाई दी। साथ ही कंबोडिया को लोगों को सुरक्षित रखने के लिए उन्हें वैक्सीन दान में देने की मांग की है।

यह भी पढ़ेंः-केंद्र पर जमकर बरसे राहुल, बोले- सरकार को वापस लेने होंगे कानून

इससे पहले प्रधानमंत्री हन सेन ने घोषणा कि चीन ने कंबोडिया को 1 मिलियन वैक्सीन देने का प्रस्ताव दिया है और उन्होंने अपनी जरूरत को देखते हुए बिना डब्लूएचओ की मंजूरी के इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया। इसके साथ-साथ उन्होंने यह प्रण लिया कि वह खुद सबसे पहले वैक्सीन को लगावाएंगे, जिससे जनता में वैक्सीन को लेकर विश्वास पैदा हो सके।