वोकल फॉर लोकल पर जोर दे रही बीजेपी सरकारः स्वाति सिंह

99

लखनऊः उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज गांधी शिल्प बाजार का शुभारंभ किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि महिला एवं बाल विकास मंत्री स्वाती सिंह ने कहा कि उनकी सरकार महिला एवं बाल विकास के अलावा ‘वोकल फॉर लोकल’ पर जोर देती है। इसलिए ऐसे आयोजन किए जा रहे हैं, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देते हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी ऐसे आयोजन पर जोर दे रहे हैं, जिससे लोगों को रोजगार मिल सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश की बीजेपी सरकार ऐसे कार्यक्रमों को बढ़ावा दे रही है जिससे लोगों को रोजगार के अवसर मिल सके। हमारी कामना है कि यहां जो भी लोग आए हैं उनकी सामग्री खूब बिके और वह प्रदेश से बाहर व प्रदेश से आने वाले लोगों को धन्यवाद देती हैं। इस दौरान कार्यक्रम संयोजक एनपी सिंह ने उनका स्वागत करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार को इसके लिए धन्यवाद देते हैं कि वह ऐसे आयोजन का मौका देती है।

यह भी पढ़ेंः-पीएम शेख हसीना ने दिये आदेश, धर्म के नाम पर हिंसा…

बता दें कि यह कार्यक्रम चारबाग स्थित बाल संग्रहालय के ग्राउंड में आयोजित किया गया। मंच पर रंगारंग आयोजन भी हुए जिसमें सृष्टि तिवारी ने गायन से लोगों को खूब लुभाया। यह आयोजन प्रयागराज के भारतीय महिला ग्रामोद्योग संस्थान किया गया।

कमाल के हैं ये हाथी

शिल्प बाजार में मुंबई से लाई गई लाख की वस्तुएं काफी पसंद की जा रही हैं। इसमें केवल लाख की बनी श्रंगार और सजावटी सामग्री बिकने के लिए लाई गई हैं। लाख हैंडीक्राप्ट आर्टिकल के मालिक मोहम्मद आरिफ ने अपने हाथों से ऐसी वस्तुएं बनाई हैं, जिन्हें लोग निहारते हुए रुक जाते हैं। इन वस्तुओं में महिलाओं के लिए कंगन और चूड़ियां, सिंदूर रखने के लिए नन्हे-नन्हे बाक्स इसके अलावा सजावट की सामग्री भी बिक्री के लिए लाई गई हैं। दुकानदार मोहम्मद आरिफ का कहना है कि तमाम चीजों को वह प्रदर्शन के लिए भी ले जाते हैं।

लेकिन मुंबई दूर है, इसलिए सभी चीजें लाना मुमकिन नहीं था। बाजार में उनके हाथ से बने हाथी खूब पसंद किए जा रहे हैं। इन हाथियों की कीमत कुछ महंगी जरूर है, लेकिन जो लोग इनको देखते हैं, उन्हें यह आकर्षित जरूर करते हैं। रंगीन लाख की बने हाथी पर कांच का जड़ना वास्तव में हुनर का काम है। दुकानदार का कहना है कि दशकों यह खराब नहीं होंगे और हमेशा इसी तरह से चमकते भी रहेंगे। मिट्टी से बने हाथी टूट जाते हैं, गिरने पर भी यह पीतल की तरह अटूट रहेंगे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)