ककलोत वाटर फॉल पहुंचे सीएम नीतिश कुमार, बोले- सैलानियों के लिए बढ़ाई जाएंगी सुविधाएं

नवादा: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने शुक्रवार काे नवादा जिले के गोविंदपुर प्रखंड स्थित ककोलत शीतल जल प्रपात का दौरा किया। उन्होंने वहां उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लिया और कमियों से संबंधित फिडबैक अधिकारियों से लिया। बाद में मीडिया से बात करते हुए कहा कि बहुत ही पवित्र स्थल है। देखिए कितने लोग यहां पहुंचे हुए हैं। उन्होंने कहा कि सीढ़ी के रास्ते दुकानों की जरूरत नहीं है। आने-जाने के रास्ते में ही दुकानें बनाई जाएगी। सैलानियों के लिए हर तरह की सुविधाएं यहां उपलब्ध होगी।

पूर्व के दौरे को याद करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा कि पिछली बार आया था, उसके बाद काफी कुछ काम हुआ है। मन में आया कि एक बार देख लिया जाए कि यहां क्या हुआ है। इसीलिए चला आया। उन्होंने कहा कि दो साल कोरोना के कारण जरूरी काम नहीं हो सका। अधिकारियों से जानकारी ली गई है। सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी।

ये भी पढ़ें..मासिक धर्म स्वच्छता दिवस: महावारी में न करें कपड़े का प्रयोग,…

इसके पूर्व दिसंबर 2018 में सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ककोलत पहुंचे थे। तब उन्होंने कई सारी सुविधाएं यहां उपलब्ध कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए थे। कोरोना काल में काम में अपेक्षित प्रगति नहीं हुई। इस दौरान डीएम उदिता सिंह, एसपी गौरव मंगला, डीएफओ राजीव रंजन सहित जिला प्रशासन के तमाम अधिकारी मौजूद थे।

वाटर फॉल तक पहुंचे सीएम

ककोलत पहुंचे सीएम सीढ़ियों के सहारे वॉटर फॉल तक पहुंचे। वॉटर फॉल के पूरे परिसर को देखा। वहां फैली शीतलता का आनंद लिया। अधिकारियों से उपलब्ध साधन-संसाधन के बारे में जाना। क्या कुछ और हो सकता है इसपर चर्चा की।

सैलानियों में दिखी नाराजगी

सीएम के आगमन को लेकर ककोलत के रास्ते को पूरी तरह से खाली करा दिया गया था, जिससे सैलानियों में नाराजगी दिखी। एक सैलानी बच्चे का मुंडन कराने पहुंचे थे। कहा कि 10 हजार रुपये खर्च किया। सीएम के कार्यक्रम के नाम पर परेशानी बढ़ा दी। कई अन्य सैलानियों ने भी नाराजगी जताई।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)