पदभार संभालते ही बाइडेन ने पलट दिये ट्रम्प के कई निर्णय

39

वॉशिंगटनः अमेरिका के राष्ट्रपति का पदभार संभालने के साथ ही जो बाइडेन ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के कई अहम फैसलों को पलट दिया है। बाइडेन ने कुल 15 कार्यकारी आदेशों पर हस्ताक्षर किया है। काफी उतार-चढ़ाव के बाद अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के रूप में पदभार संभालने वाले जो बाइडेन ने ट्रम्प की कई नीतियों को पलटते हुए पेरिस जलवायु संधि में अमेरिका के दोबारा शामिल होने को हरी झंडी दे दी है। साथ ही विश्व स्वास्थ्य संगठन से अमेरिका के हटने की प्रक्रिया भी रोक दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कोरोना के व्यापक खतरों को देखते हुए देशभर में नागरिकों के लिए मास्क को अनिवार्य कर दिया है। जो बाइडेन ने कई मुस्लिम देशों की यात्रा पर लगाए गए प्रतिबंध को भी हटा दिया है। वहीं बाइडन की प्रेस सेक्रेटरी जेन साकी ने कहा कि पहले दिन लिए गए फैसले शुरुआत भर हैं। आने वाले दिनों में राष्ट्रपति और भी कई फैसले लेंगे।

बाइडन ने कहा कि आज वह जिन कार्यकारी आदेशों पर हस्ताक्षर कर रहे हैं, उनमें से कुछ कोरोना महामारी संकट की कार्यप्रणाली को बदलने में मदद करने वाले हैं, हम एक नए सिरे से जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने जा रहे हैं जो हमने अब तक नहीं किया है और नस्लीय भेदभाव को खत्म करने वाले हैं। अब अमेरिका के सभी नागरिकों के लिए मास्क अनिवार्य कर दिया गया है। यह निर्णय कोरोना महामारी को नियंत्रिक करने के मकसद से लिया गया है। जयवायु परिवर्तन के मसले पर अमेरिका की वापसी यानी अमेरिका अब 30 दिन बाद पेरिस जलवायु समझौते में दोबारा शामिल हो जाएगा।

यह भी पढ़ें-हैप्पी बर्थडे सुशांतः बैकग्राउंड डांसर के रूप में की थी दिवंगत अभिनेता ने करियर की शुरुआत

इसके साथ ही विश्व स्वास्थ्य संगठन से हटने के फैसले को रोका और डॉ. एंथोनी फॉसी को विश्व स्वास्थ्य संगठन के कार्यकारी बोर्ड में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल का प्रमुख बनाया गया है। मेक्सिको से लगी सीमा पर आपातकाल की घोषणा को वापस ले लिया गया है। दीवार बनाने के फैसले और फंडिंग को भी रोक दिया गया है। ट्रंप प्रशासन द्वारा जिन मुस्लिम देशों पर बैन लगाया गया था, उसे वापस लिया और विदेश मंत्रालय को जल्द ही वीजा प्रक्रिया शुरू करने का आदेश दिया गया है। छात्र ऋण की किस्त वापसी को सितंबर तक टाल दिया गया है।