17 अक्टूबर को होगी IPL की 2 नई टीमों की नीलामी ! लखनऊ फ्रेंचाइजी खरीद सकते हैं संजीव गोयनका

नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की दो नई टीमों की नीलामी 17 अक्टूबर को करवा सकता है। नीलामी का आयोजन दुबई या मस्कट शहर में किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक बीसीसीआई ने तीन प्रमुख तारीखों- 21 सितंबर, 5 अक्टूबर और 17 अक्टूबर को चुना है। 21 सितंबर तक इसे लेकर आखिरी फैसला किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें.. टी-20 में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले श्रीलंका के दिग्गज गेंदबाज मलिंगा ने लिया संन्यास, लिखा भावुक पोस्ट

इन 6 शहरों के लिए लगेगी बोली

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, “नीलामी 17 अक्टूबर को होने की संभावना है और इस पर 21 सितंबर तक स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है, आईटीटी (इनविटेसन टू टेंडर) दस्तावेज भी पांच अक्टूबर तक उपलब्ध होगा।”
बोली लगाने वाले दो से छह शहरों के लिए बोली लगा सकता है। अभी अहमदाबाद, लखनऊ, इंदौर, कटक, गुवाहाटी और धर्मशाला बोली लगाने के लिए उपलब्ध हैं। बीसीसीआई ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि प्रत्येक बोली लगाने वाले की कुल संपत्ति 2500 करोड़ रुपये की होनी चाहिए और कंपनी का कारोबार 3000 करोड़ रुपये का होना चाहिए।

लखनऊ फ्रेंचाइजी खरीद सकते है संजीव गोयनका

रिपोर्ट के मुताबिक माना जा रहा है कि कुछ पार्टियों ने आईटीटी दस्तावेज खरीदा है। उनमें से एक आरपीएसजी समूह के संजीव गोयनका हैं, जो पहले दो साल के लिए पुणे फ्रेंचाइजी के मालिक थे। गोयनका लखनऊ की टीम को खरीद सकते हैं। फिलहाल इस टूर्नामेंट में आठ टीमें हैं और प्रत्येक टीम सात मैच अपने घरेलू और इतने ही मुकाबले बाहर मैदान में खेलती हैं। हालांकि आने वाले कार्यक्रम के अनुसार नौ घरेलू और नौ घर से बाहर के खेल हो सकते हैं।

बोली लगाने वाले की कुल संपत्ति 2500 करोड़ होनी चाहिए

वहीं बीसीसीआई ने स्पष्ट किया है कि वित्तीय जरूरतों को लेकर प्रत्येक बोली लगाने वाले की कुल संपत्ति 2500 करोड़ रुपये होनी चाहिए और कंपनी का कारोबार 3000 करोड़ रुपये का होना चाहिए। एक संघ के मामले में, बीसीसीआई केवल तीन भागीदारों को अनुमति देगा और उनमें से एक को 2500 करोड़ रुपये की कुल संपत्ति और 3000 करोड़ रुपये के कारोबार के उपरोक्त मानदंडों को पूरा करना होगा। जैसा कि बताया गया है, बेस प्राइस 2000 करोड़ रुपये है।

खिलाड़ियों को रिटेन करने की संभावना पर BCCI खामोश

बीसीसीआई फिलहाल मौजूदा टीमों द्वारा खिलाड़ियों को रिटेन करने की संभावना पर खामोश है। ये समझा जाता है कि बोर्ड दो रिटेंशन और दो राइट टू मैच (आरटीएम) कार्ड की अनुमति दे सकता है, जिसमें भारतीय और विदेशी खिलाड़ियों को बनाए रखने की अनुमति दी गई है। रीटेंशन की जानकारी नवंबर तक फाइनल हो जाएगी, जबकि मेगा ऑक्शन जनवरी 2022 में होने की संभावना है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)