बंगाल में तृणमूल की जीत के साथ ही भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले, नंदीग्राम में तांडव

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की जीत के साथ ही राज्य भर में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं और पार्टी कार्यालयों पर हमले का दौर शुरू हो गया है। यहां तक कि एक भाजपा कार्यकर्ता की पीट-पीटकर हत्या किये जाने का दावा किया जा रहा है।

बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को नंदीग्राम में 1956 वोटों से हरा दिया। इससे टीएमसी कार्यकर्ताओं में गुस्सा है और कल रात से ही हल्दिया और नंदीग्राम के विभिन्न इलाकों में प्रदर्शन कर रहे हैं। देर रात को हल्दिया में शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर हमला भी किया गया था। नंदीग्राम के मंजूश्री मोड़ पर टीएमसी के समर्थक धरना पर बैठे हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं। पुलिस प्रदर्शनकारियों को नियंत्रण करने की कोशिश कर रही है, लेकिन नियंत्रण करने में असफल है। मतगणना समाप्त होने के बाद से हल्दिया के विभिन्न इलाकों में तनाव है। पुलिस और कंबैट फोर्स के जवानों की तैनाती कर दी गई है।

इसके अलावा कई अन्य जगहों से भी बीजेपी कार्यकर्ताओं को निशाना बनाने की खबरें आई हैं। बेलियाघाटा विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी के 30 वर्षीय कार्यकर्ता अभिजीत सरकार की पीट-पीटकर हत्या की घटना सामने आयी है। इसके अलावा बिष्णुपुर में एक बीजेपी के पोलिंग एजेंट के घर को आग के हवाले कर दिया गया। बेलियाघाटा में बीजेपी उम्मीदवार काशीनाथ विश्वास के घर और गाड़ियों को फूंक दिया गया। आसनसोल में भी बीजेपी कार्यालय में आग लगा दी है।

यह भी पढ़ेंः-उत्तर प्रदेश में अब गुरूवार सुबह सात बजे तक रहेगा लाॅकडाउन, जरूरी सेवाओं को छूट

बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमले के खिलाफ बीजेपी का प्रतिनिधिमंडल आज राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात करेगा। प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमले की शिकायत करेगा और कार्रवाई की मांग करेगा।

loading...