आईएसएल-7 : डेविड के दम पर एटीकेएमबी ने चेन्नइयन को चौंकाया

54

गोवाः सब्स्टीट्यूट डेविड विलियम्स के इंजुरी टाइम में किए गए गोल की मदद से मौजूदा चैम्पियन एटीके मोहन बागान ने गुरुवार रात यहां फातोर्दा के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में चेन्नइयन एफसी को 1-0 से हरा दिया।

एटीकेएमबी को 12 मैचों में यह सातवीं जीत है और टीम के 24 अंक हो गए हैं और वह तालिका में दूसरे नंबर पर है। दो बार की पूर्व चैम्पियन चेन्नइयन को 13 मैचों में चौथी हार का सामना करना पड़ा है और टीम 15 अंकों के साथ छठे नंबर पर है।

पहले हाफ में दोनों टीमों का डिफेंस मजबूत रहा और मिडफील्ड में उनके बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला एटीकेएमबी ने मैच के शुरुआत से ही आक्रमण करना शुरू कर दिया। कोच एंटोनियो हबास की टीम ने सातवें मिनट में एक मौका बनाया।

तिरी ने कार्ल मैक्हग के असिस्ट पर बॉक्स के बाहर से एक बेहतरीन शॉट लगाया, लेकिन चेन्नइयन के गोलकीपर ने इसे उतने ही तरीके से सेव कर लिया। चेन्नइयन गोलकीपर विशाल ने 21वें मिनट में भी सॉलिड सेव करते हुए एटीके मोहन बागान को बढ़त लेने से रोक दिया। इस बार जेवियर हर्नांडीज अपने साथी इदु गार्सिया के असिस्ट पर बॉल को गोलपोस्ट में नहीं पहुंचा पाए।

मौजूदा चैम्पियन हालांकि आगे भी अपना आक्रमण जारी रखा और 32वें तथा इसके सात मिनट बाद फिर उसके स्टार खिलाड़ी रॉय कृष्णा अपनी टीम को बढ़त दिलाने का मौका गंवा बैठे। 45वें मिनट में एटीकेएमबी के कार्ल मैक्हग को पीला कार्ड दिखाया गया और फिर इसके बाद दोनों टीमों के बीच पहला हाफ गोलरहित रहा।

दूसरा हाफ एटीके मोहन बागान के काफी अहम होने वाला था क्योंकि टीम ने इस सीजन में अब तक जो 11 गोल किए हैं, उनमें से 10 गोल उसने दूसरे हाफ में किए हैं। इन आंकड़ों के बावजूद एटीके मोहन बागान दूसरे हाफ के पहले 20 मिनट तक अपना खाता नहीं खोल पाई। 55वें मिनट में मैच का पहला बदलाव देखने को मिला।

एटीकेएमबी ने सुभाशीष बोस की जगह सुमित राठी को उतारा। 64वें मिनट में हबास की टीम के दूसरे खिलाड़ी रेफरी की नजरों में आए गए और इस बार सुमित सिंह को येलो कार्ड दिखाया गया। इसके तीन मिनट बाद ही कोलकाता की टीम ने लगातार दो बदलाव किए और फिर दो मिनट बाद ही चेन्नइयन की तरफ बदनाव देखने को मिला।

यह भी पढ़ेंः-समय से पहले होने वाली स्किन की समस्याओं का करें प्राकृतिक उपचार

इस सीजन में अब तक केवल दो बार ही ऐसा हुआ है कि इन दोनों टीमों ने मैच का पहला गोल खाया है और यहां भी दोनों की डिफेंस को देखते हुए मैच में किसी का भी खाता खुलता हुआ नहीं दिख रहा था। 74वें मिनट में तो चेन्नइयन गोलकीपर विशाल ने एक और बेहतरीन सेव करते हुए एटीकेएमबी को बढ़त लेने से रोक दिया। 82वें मिनट में चेन्नइयन के रीगन सिंह को येलो कार्ड का सामना करना पड़ा। हालांकि इसके बाद मुकाबला इंजुरी टाइम में चला गया, जहा सब्स्टीटयूट डेविड विलियम्स ने जेवियर हर्नांडीज के क्रॉस पर हेडर के जरिए बॉल को नेट में पहुंचाकर एटीकेएमबी को 1-0 से आगे कर दिया। इसके बाद तिरी ने चेन्नइयन के गोल करने के मौके को विफल करते हुए एटीकेएमबी को पूरे ​तीन अंक दिला दिया।