राहुल ने एक न सुनी, कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ेंगे गहलोत, इस दिन करेंगे नामांकन

cm-gehlot

नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव की तस्वीर अब लगभग साफ हो गई है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी अपने पहले के स्टैंड पर कायम हैं। इस बात पुष्टि अब राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने भी कर दी है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को कहा कि राहुल गांधी ने एक न सुनी उन्होंने पार्टी अध्यक्ष का चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है और वो चाहते हैं कि गांधी परिवार से अलग कोई व्यक्ति पार्टी अध्यक्ष बनें।

ये भी पढ़ें..अवैध सम्बंध में पति बना रोड़ा, प्रेमी संग पत्नी ने लगाया ठिकाने, पुलिस ने ऐसे सुलझाया केस

गहलोत ने कहा, मैं जल्द ही नामांकन दाखिल करूंगा और यह समय की जरूरत है कि विपक्ष मजबूत हो। मैं जल्द ही नामांकन की तारीख तय करूंगा। इसी साथ अशोक गहलोत का कांग्रेस का अगला अध्यक्ष बनना लगभग तय है। हालांकि गहलोत ने कहा कि पार्टी तय करेगी कि राजस्थान का नया मुख्यमंत्री कौन होगा। सूत्रों के मुताबिक इससे पहले, गहलोत राज्य के मुख्यमंत्री और पार्टी अध्यक्ष पद दोनों को एक साथ हासिल करने की इच्छा जता रहे थे। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि गहलोत पहले इस्तीफा देंगे और फिर चुनाव लड़ेंगे या फिर निर्वाचित होकर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देंगे।

सचिल पायलट प्रबल दावेदार

सचिन पायलट मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार हैं। लेकिन अंतिम निर्णय पार्टी नेतृत्व द्वारा लिया जाएगा। राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस उदयपुर घोषणा के अनुसार ‘वन मैन वन पोस्ट’ का पालन करेगी। राजस्थान के मुख्यमंत्री पद की पैरवी कर रहे सचिन पायलट को राहुल गांधी के इस बयान ने बड़ी राहत दी है।

अशोक गहलोत के बयान के बाद अब साफ हो गया कि कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव होगा। अशोक गहलोत की ओर से कुछ दिन पहले ही कहा गया था कि वो आखरी बार राहुल गांधी को मनाने की कोशिश करेंगे। यह बात उन्होंने विधायक दल की बैठक में भी कही थी। कल से अध्यक्ष पद चुनाव के लिए नामांकन शुरू हो रहा है और अब अशोक गहलोत का नॉमिनेशन तय है। सूत्रों की मानें तो अशोक गहलोत और शशि थरूर के बीच संभावित मुकाबला देखने को मिल सकता है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)