Ashes Series: उस्मान ख्वाजा ने दोनों पारियों में जड़ा शतक, सिडनी में बने कई रिकॉर्ड

सिडनीः बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा ऑस्ट्रेलियाई टीम में शानदार वापसी की है। शनिवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) में एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक लगाकर कई रिकॉर्ड बना डाले। सिडनी के मैदान पर दोनों पारियों में शतक लगाने वाले ख्वाजा तीसरे बल्लेबाज बन गए हैं। ख्वाजा से पहले इस मैदान पर डग वॉल्टर्स और रिकी पोटिंग ने दोनों पारियों में शतक लगाया था। वॉल्टर्स ने सबसे पहले 1969 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 242 और 103 रन बनाए थे। उनके बाद पोंटिंग ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की थी। पोंटिंग ने 2006 में 120 और नाबाद 143 रन की पारी खेली थी।

ये भी पढ़ें..IPS वीके भावरा बने पंजाब के नए DGP, सीएम चन्नी ने लगाई नाम पर मुहर

बता दें कि ख्वाजा ने सिडनी में खेले गए चौथे एशेज टेस्ट के पहली पारी में 137 और दूसरी पारी में नाबाद 101 रनों की पारी खेली। इसके साथ ही ख्वाजा एक एशेज टेस्ट में दो शतक बनाने वाले छठे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज भी बने। उनसे पहले वेरेन बार्डस्ले (1909), आर्थुर मॉरिस (1947), स्टीव वॉ (1997), मैथ्यू हेडन (2002) और स्टीव स्मिथ (2019) ने यह उपलब्धि हासिल की थी। इसके अलावा ख्वाजा टेस्ट इतिहास में दोनों पारियों में शतक लगाने वाले 87वें बल्लेबाज हैं। पिछली बार भारत के रोहित शर्मा ने ऐसा किया था। उन्होंने 2019 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दोनों पारियों में शतक लगाया था। ऑस्‍ट्रेलिया में आखिरी दो बल्‍लेबाज, जिन्‍होंने दोनों पारियों में शतक जमाए। वो हैं विराट कोहली 115 और 141* और उस्‍मान ख्‍वाजा 137* और 101 रन।

इंग्लैंड को मिला 358 रनों का लक्ष्य

चौथे एशेज टेस्ट की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच में इंग्लैंड के सामने 388 रनों का लक्ष्य रखा है, जिसके जवाब में इंग्लैंड ने चौथे दिन का खेल खत्म होने पर बिना किसी नुकसान के 30 रन बना लिए हैं। जैक क्रॉली 22 और हसीब हमीद आठ रन बनाकर नाबाद हैं। इंग्लैंड को जीत के लिए आखिरी दिन 358 रन चाहिए।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)