NIA की PFI पर छापेमारी को लेकर अमित शाह ने अधिकारियों के साथ की अहम बैठक

PFI

नई दिल्लीः टेरर फंडिंग और कैंप चलाने के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) देश के कई राज्यों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ( PFI) के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। इसको लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को एक उच्चस्तरीय बैठक कर पूरे मामले की जानकारी ली है। गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि अमित शाह ने जांच एजेंसियों से जुड़े वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की है। इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, गृह सचिव अजय कुमार भल्ला सहित एनआईए के डीजी भी शामिल थे।

ये भी पढ़ें..Terror Funding: PFI के खिलाफ NIA की बड़ी कार्रवाई, देश भर में छापेमारी, 100 से ज्यादा गिरफ्तार

29 अगस्त को अमित शाह ने PFI पर कार्रवाई के दिए थे निर्देश

अमित शाह ने पूरे छापेमारी पर जानकारी ली है। इसके अलावा गृहमंत्री ने एनआईए अधिकारियों और दफ्तरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को भी कहा है। जानकारी के मुताबिक 29 अगस्त को गृह मंत्री अमित शाह ने जांच एजेंसियों के बड़े अधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की थी, जिसमें अलग-अलग एजेंसियों को कोऑर्डिनेटेड तरीके से PFI पर बड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए थे। इसी को लेकर एनआईए ने देर रात देश के यूपी-बिहार करीब 11 राज्यों में छापेमारी कर पीएफआई के 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है।

गौरतलब है कि टेरर फंडिंग और कैंप चलाने के मामले में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उससे जुडे लिंग पर देश भर में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) व ईडी ने छापेमारी कर रही है। इस दौरान ईडी, एनआईए और राज्यों की पुलिस ने यूपी, महाराष्ट्र, केरल और तमिलनाडु समेत देश के करीब 11 राज्यों में PFI के स्टेट से लेकर जिला स्तर के नेताओं के घरों पर छापेमारी की है। इस दौरान पीएफआई से जुड़े 106 लोगों को अलग-अलग मामलों में गिरफ्तार किया गया है। जिसमे पीएफआई का अध्यक्ष परवेज अहमद शामिल है। एनआईए ने इसे ‘अब तक का सबसे बड़ा जांच अभियान’ करार दिया है।

कहा कितनी हुई गिरफ्तरी

सूत्रों के मुताबिक, NIA की अगुवाई में कई एजेंसियों ने गुरुवार सुबह 11 राज्यों में एक साथ छापे मारे और देश में आतंकवाद के वित्त पोषण में कथित तौर पर शामिल पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के 106 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने बताया कि सबसे ज्यादा गिरफ्तारियां दिल्ली (3),उत्तर प्रदेश (8),तमिलनाडु (10), आंध्र प्रदेश (5), केरल (22), महाराष्ट्र (20), कर्नाटक (20), असम (9), मध्य प्रदेश (4), पुडुचेरी (3) और राजस्थान (2) में की गईं। कई राज्यों में PFI के हेड को गिरफ्तार किया गया है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)