अखिलेश ने जानबूझकर मतदान धीमा कराने का लगाया आरोप, चुनाव आयोग को भेजा पत्र

23

लखनऊः उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण में 11 जिलों की 58 सीटों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान जारी है। अपराह्न 1 बजे तक औसतन 22 प्रतिशत मतदान हो चुका है। इसी बीच सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जानबूझकर मतदान धीमे कराये जाने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग का ध्यान आकृष्ट कराया है। इसके साथ ही मतदान केन्द्रों पर तत्काल यथोचित कार्रवाई करने की मांग की है।

वहीं सपा ने कई जगह अनियमितताओं का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग को पत्र भेजा है। अखिलेश ने ट्विटर के जरिए कहा कि चुनाव आयोग से अपील है और साथ ही ये अपेक्षा है कि जहां भी ईवीएम खराब होने या जानबूझकर मतदान धीमे कराए जाने के आरोप लग रहे हैं, उन मतदान केंद्रों पर तत्काल यथोचित कार्रवाई की जानी चाहिए। सुचारू और निष्पक्ष मतदान चुनाव आयोग की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है।

ये भी पढ़ें..बसपा मुख्यालय पर निधि शुक्ला ने अमनमणि के खिलाफ दिया धरना, टिकट काटने की मांग

सपा के प्रदेश सचिव अरविन्द कुमार सिंह ने मतदान वाले विधानसभा क्षेत्रों की शिकायतों के संबंध में आयोग को आठ पत्र भेजे हैं। इसमें कई पत्रों में उन्होंने भाजपा पर चुनाव प्रभावित करने का आरोप लगाया है और उस पर तत्काल रोक लगाने की मांग की। इन पत्रों को उन्होंने ट्विटर हैंडल पर भी शेयर किया है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)