यूपी के 17 फीसदी पुलिसकर्मियों ने नहीं लगवाई वैक्सीन, ओमीक्रोन का मंडरा रहा खतरा

लखनऊः लखनऊ पुलिस के 23,488 जवानों में से करीब 24 फीसदी जवान ऐसे हैं, जिन्होंने कोरोना की एक भी डोज नहीं ली है। इसका मतलब है कि राजधानी में पुलिस के 5,788 जवानों पर कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन का खतरा मंडरा रहा है। इतना ही नहीं अगर बात की जाए यूपी की तो 2,96,502 पुलिस जवानों में से 51,144 जवानों ने अभी तक कोरोना की वैक्सीन से दूरी बनाई हुई है। जो खुद तो कोरोना जैसी बीमारी के खतरे में हैं ही, अपने परिवार और प्रदेश की जनता के लिए भी खतरा बने हुए हैं। इसके साथ ही लखनऊ के 1,151 पुलिसकर्मियों ने पहली डोज तो लगवाई है, लेकिन अभी तक दूसरी डोज नहीं ली है। इसी तरह यूपी के 45,169 जवान ऐसे हैं, जिन्होंने पहली डोज तो ली है लेकिन दूसरी डोज से खुद को अभी तक दूर रखा है।

ये भी पढ़ें..दिल्ली सरकार की एक और बड़ी उपलब्धि, सिंगल मदर के बेटे को दिया जाति प्रमाण पत्र


काबिलेगौर है कि देश के विभिन्न राज्यों में कोरोना का ओमीक्रॉन वैरिएंट तेजी से पांव पसार रहा है और उत्तर प्रदेश पर भी इसका खतरा मंडरा रहा है। इसको देखते हुए सरकार ने नाईट कर्फ्यू लागू करने के साथ ही नए साल के जश्न व भीड़-भाड़ पर रोक लगा दी है। ऐसे में इन प्रतिबंधों के अनुपालन की जिम्मेदारी पुलिसकर्मियों के कंधों पर है, लेकिन वैक्सीन न लगवाने पुलिसकर्मी लोगों के लिए खतरा बने हुए हैं। पुलिस अधिकारी लगातार निर्देश जारी कर रहे हैं कि सभी पुलिसकर्मियों का वैक्सीनेशन जल्द से जल्द पूरा करा लिया जाए। यूपी पुलिस के मुखिया ने भी सभी जिला पुलिस अधिकारियों को आदेश दिया है कि जो पुलिसकर्मी कोरोना की वैक्सीन लेने से बच गए हैं, उनको जल्द से जल्द कोरोना वैक्सीन दिलाई जाए। आगामी चुनाव के मद्देनजर भी यह जरूरी है, क्योंकि चुनाव में उन्हीं पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगेगी जिनको कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी हो।

पीएम और सीएम के क्षेत्र में वैक्सीन से दूरी

पीएम नरेन्द्र मोदी के क्षेत्र वाराणसी में 10,883 जवानों में 9,201 पुलिसकर्मियों ने पहली डोज ली है तथा 9,105 जवानों ने दूसरी डोज भी लगवाई है। इस प्रकार वाराणसी में पहली ही डोज से दूरी बनाने वाले पुलिसकर्मियों की संख्या 1,682 है, जबकि दूसरी डोज न लगवाने वाले महज 96 पुलिसकर्मी है। इसी तरह अगर बात की जाए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र की तो गोरखपुर के कुल 7,300 पुलिसकर्मियों में से 6,248 ने पहली डोज तो 5,147 पुलिसकर्मियों ने दूसरी डोज ली हुई है। गौर करने वाली बात यह है कि अभी तक गोरखपुर के 1,052 पुलिसकर्मियों ने एक भी डोज नहीं लगवाई है और 1,101 पुलिसकर्मी अभी तक दूसरी डोज नहीं ले पाए हैं।

यूपी की स्थिति-


कुल पुलिसकर्मी-2,96,502

पहली डोज-2,45,358

दूसरी डोज-2,00,189

पहली डोज बाकी -51,144

दूसरी डोज बाकी-45,169

लखनऊ की स्थिति

कुल पुलिसकर्मी-23,488

पहली डोज-17,700

दूसरी डोज-16,549

पहली डोज बाकी-5,788

दूसरी डोज बाकी-1,151

2,000 से ऊपर वाले जिले लखनऊ 5,788

कानपुर नगर 2,851
मुरादाबाद 2,449
प्रयागराज 2,129

1,000 हजार से ऊपर वाले जिले

आगरा 1,967
अलीगढ़ 1,817
नोएडा 1,113
गाजियाबाद 1,448
गोरखपुर 1,052
मथुरा 1,022
मेरठ 1,179
सीतापुर 1,123
वाराणसी 1,682

जल्द ही होगा सबका वैक्सीनेशन

पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल ने इस बारे में पूछने पर कहा कि इसकी जानकारी पीआरओ देंगे। पीआरओ ने बताया कि पुलिसकर्मियों का वैक्सीनेशन अभी भी चल रहा है। अब केवल वहीं पुलिसकर्मी बचे हुए हैं, जिनको मेडिकल बेस पर अभी तक वैक्सीन नहीं लगी या जिनको डॉक्टर ने मना किया हुआ है। इसके अलावा नए आने वाले पुलिसकर्मियों का भी वैक्सीनेशन तेजी से कराया जा रहा है। जल्द ही सभी पुलिसकर्मियों को वैक्सीन लग चुकी होगी।
वर्जन

पीयूष मोर्डिया जेसीपी, लॉ एण्ड ऑर्डर लखनऊ ने कहा कि लखनऊ में लगभग सभी पुलिसकर्मियों का वैक्सीनेशन हो चुका है। सिर्फ स्वास्थ्य की दृष्टि से डॉक्टर ने जिनको वैक्सीन लेने से अभी फिलहाल मना किया हुआ है, सिर्फ उन्हीं लेागों को वैक्सीन नहीं लगी है। जैसे ही उन्हें डॉक्टर कहेंगे, वह वैक्सीन लगवा लेंगे। पुलिस विभाग अभी बूस्टर डोज लेने की तैयारी कर रहा है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर  पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…)