Independence day: स्वतंत्रता दिवस पर 130 कैदी होंगे रिहा

रांचीः स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झारखंड की विभिन्न जेलों में सजा काट रहे 110 बंदियों को रिहा किया जायेगा। झारखंड सरकार ने इन सभी दोष सिद्ध बंदियों की सजा माफ कर दी है। इसके अलावा मध्य प्रदेश की सतना जेल से करीब 20 कैद रिहा होंगे। आजादी का अमृत महोत्सव के कार्यक्रमों के क्रम में पहले चरण 15 अगस्त के अवसर पर बंदियों के जेल में अच्छे आचरण को देखते हुए उनकी शेष सजा अवधि माफ करते हुए रिहा करने का निर्णय लिया गया है।

ये भी पढ़ें..14 अगस्त का इतिहास : आज ही के दिन भारत मां के आंसुओं से लिखी गई थी बंटवारे की तारीख

राज्य सरकार ने होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार से 10, पलामू सेंट्रल जेल से 78, हजारीबाग स्थित जयप्रकाश नारायण केंद्रीय कारागार से 12, घाघडीह स्थित केंद्रीय कारा से 3, गिरीडीह स्थित केंद्रीय कारा से एक और दुमका स्थित केंद्रीय कारा से छह कैदियों को रिहा करने का निर्णय लिया है।

सतना जेल से 20 कैदी होंगे रिहा

वहीं केन्द्रीय जेल सतना में 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में आजीवन कारावास के 18 एवं छोटी सजा के दो बंदी जेल मुख्यालय के आदेश एवं राज्य शासन से घोषित परिहार का लाभ प्राप्त कर सजा भुगत कर रिहा होंगे। केन्द्रीय जेल सतना के कल्याण अधिकारी अनिरुद्ध कुमार तिवारी ने बताया कि रिहा होने वाले आजीवन कारावास के बंदियों में सतना जिले के 4, छतरपुर के 8, कर्बी (चित्रकूट उत्तर प्रदेश) के 3, पन्ना, बालाघाट, बांदा (उ.प्र.) जिले के एक-एक बंदी सजा भुगत कर रिहा होंगे। इसी प्रकार छोटी सजा के रिहा होने वाले कैदियों में सतना और हमीरपुर (उ.प्र.) जिले का एक-एक बंदी शामिल है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें व हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें)